पीएम नरेंद्र मोदी पर खतरा, निशाना बनाने देश में दाखिल हुए चार आतंकी

इंटेलीजेंस ब्यूरो और दिल्‍ली पुलिस को आशंका है कि लश्कर ए तैयबा के आतंकवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश के बड़े नेताओं को निशाना बना सकते हैं. आईबी के एक अधिकारी मुताबिक इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए तीन से चार आतंकवादी जम्‍मू-कश्‍मीर के रास्‍ते भारत में दाखिल हो चुके हैं.
इंटेलीजेंस ब्यूरो और दिल्‍ली पुलिस को आशंका है कि लश्कर ए तैयबा के आतंकवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश के बड़े नेताओं को निशाना बना सकते हैं. आईबी के एक अधिकारी मुताबिक इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए तीन से चार आतंकवादी जम्‍मू-कश्‍मीर के रास्‍ते भारत में दाखिल हो चुके हैं.

इंटेलीजेंस ब्यूरो और दिल्‍ली पुलिस को आशंका है कि लश्कर ए तैयबा के आतंकवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश के बड़े नेताओं को निशाना बना सकते हैं. आईबी के एक अधिकारी मुताबिक इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए तीन से चार आतंकवादी जम्‍मू-कश्‍मीर के रास्‍ते भारत में दाखिल हो चुके हैं.

  • News18
  • Last Updated: December 6, 2015, 10:04 AM IST
  • Share this:
इंटेलीजेंस ब्यूरो और दिल्‍ली पुलिस को आशंका है कि लश्कर ए तैयबा के आतंकवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश के बड़े नेताओं को निशाना बना सकते हैं. आईबी के एक अधिकारी मुताबिक इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए तीन से चार आतंकवादी जम्‍मू-कश्‍मीर के रास्‍ते भारत में दाखिल हो चुके हैं.

टाइम्‍स ऑफ इंडिया के मुताबिक भारत में दाखिल हुए करीब चारों आतंकी लश्‍कर के कमांडर अबु दुजाना के संपर्क में हैं. दुजाना इन्‍हें हथियार के साथ भारत की जमीनी हालात से रूबरू कराने में भी मदद कर रहा है.

इन सभी आतंकियों की गिरफ्तारी के लिए दिल्‍ली पुलिस, जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस और खुफिया विभाग संयुक्‍त रूप से कोशिश कर रहे हैं. बताया जा रहा है इनमें से दो आतंकी गिरफ्तार हो चुके हैं.



खुफिया विभाग का कहना है कि लश्‍कर के आतंकी पूरी योजना के साथ भारत में दाखिल हुए हैं. वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के किसी बड़े कार्यक्रम में दाखिल होकर 26/11 या पेरिस जैसा हमला करने की फिराक में हैं. साथ ही वे आत्‍मघाती या ग्रेनेड से भी धमाका कर सकते हैं.
इन आतंकियों की आपसी बातचीत की गई रिकॉर्डिंग में वे बार-बार 'वीआई' शब्‍द का इस्‍तेमाल कर रहे हैं. इस बात को सुरक्षा एजेंसियां गंभीरता से ले रही है. इस मामले में स्‍पेशल सेल ने खुफिया विभाग से जानकारियां जुटाकर मुकादमा दर्ज कर लिया है.

मालूम हो कि अबू दुजाना को हाल ही में लश्‍कर का कमांडर नियुक्‍त किया गया है. ऐसे में वह अपनी मौजूदगी जाहिर करने के लिए भारत में बड़े वारदात को अंजाम दे सकता है. हाल ही में देश के अलग-अलग हिस्‍सों से आईएसआई के चार एजेंट गिरफ्तार हुए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज