Home /News /uttar-pradesh /

3 साल की मासूम को बनाया था हवस का शिकार, अब आरोपियों पर वकीलों का फूटा गुस्सा, कोर्ट परिसर में पीटा

3 साल की मासूम को बनाया था हवस का शिकार, अब आरोपियों पर वकीलों का फूटा गुस्सा, कोर्ट परिसर में पीटा

स्कूल प्रबंधक की पिटाई करते वकील.

स्कूल प्रबंधक की पिटाई करते वकील.

Varanasi: कुछ दिनों पहले लहरतारा (Lehartara) के सबसे बड़े निजी स्कूलों (Private School) में शुमार एक प्राइवेट स्कूल में तीन साल की बच्ची (three year old girl) के साथ दुराचार हुआ था. यहां एक स्वीपर (Sweeper) ने स्कूल के वॉशरूम (Washroom) में बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाया था. जब पुलिस गिरफ्तार स्कूल प्रबंधक (School Manager) को कोर्ट में पेश करने जा रही थी तो वकीलों (lawyers) ने लात घूसे चलाना शुरू कर दिया.

अधिक पढ़ें ...

वाराणसी. कुछ दिनों पहले लहरतारा के सबसे बड़े निजी स्कूलों में शुमार एक प्राइवेट स्कूल में तीन साल की बच्ची के साथ दुराचार हुआ था. यहां एक स्वीपर ने स्कूल के वॉशरूम में बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाया था. इस घटना से पूरा वाराणसी शहर गुस्से में हैं और आभिभावकों के साथ-साथ समाज के सभी वर्ग का रोष लगातार बढ़ रहा है. हाल ही जब स्वीपर को हिरासत में लेने के बाद पुलिस कचहरी पहुंची, तब वहां कई गुस्साए वकील भी पहुंच गए और उन्होंने आरोपी की पिटाई शुरू कर दी थी. इसके बाद भी वकीलों का गुस्सा शांत नहीं हुआ और जब पुलिस गिरफ्तार स्कूल प्रबंधक को कोर्ट में पेश करने जा रही थी तो एक बार फिर वकीलों ने लात घूसे चलाना शुरू कर दिया.

शिक्षकों को भी पीटा, वीडियो वायरल
दरअसल लोगों के बीच इस घटना के बाद से काफी गुस्सा है. वकील समुदाय के लोग इस घटना की लगातार आलोचनाएं कर रहे हैं. यही कारण है कि आरोपियों को सामने देखकर वह अपना गुस्सा नहीं रोक सके और उनकी पिटाई कर दी. स्कूल प्रबंधक की पिटाई के दौरान जब दो शिक्षक बीच बचाव के लिए आए तो वकीलों ने उन्हें भी अपने गुस्से का शिकार बना लिया. इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो किसी ने बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया, जिसके बाद से यह वीडियो वायरल हो रहा है.

वीडियो में दिख रहा है कि कैसे सादा कपड़ों में तैनात पुलिस कर्मी आरोपी को बचाने की कोशिश कर रहा है लेकिन गुस्साए वकील लगातार उसकी पिटाई कर रहे हैं. बता दें कि इस मामले में पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने एसआईटी गठित की है. एसआईटी ने स्कूल के मालिक दीपक मधोक समेत आठ स्कूल स्टाफ से देर रात पूछताछ की. दोपहर को मैनेजर दिलीप सिंह को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया, जहां वकीलों का गुस्सा देखने को मिला. फिलहाल प्रबंधक दिलीप सिंह को जेल भेज दिया गया है और जांच अभी भी जारी है. माना जा रहा है कि स्कूल में लड़के और लड़कियों के अलग अलग ट्वायलेट व्यवस्था नहीं है. इसके अलावा दूसरी खामियां भी पुलिस को जांच में मिली है. पुलिस ने स्कूल के टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ से अलग अलग पूछताछ कर रही है.

Tags: Misconduct, Varanasi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर