लाइव टीवी

सियासी दिग्गजों की मौजूदगी के बीच PM मोदी ने वाराणसी से भरा पर्चा

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 26, 2019, 2:25 PM IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूसरी बार वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. यहां पर आखिरी चरण में 19 मई को मतदान होना है.

  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वाराणसी लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया. उन्होंने सुबह करीब 11 बजकर 30 मिनट पर अपना वाराणसी कलेक्ट्रेट में जाकर पर्चा दाखिल किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूसरी बार बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. नामांकन करने जाने से पहले पीएम मोदी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने रिकॉर्ड मतदान करने की अपील की. उन्होंने कहा कि बनारस की जंग तो मैं कल ही जीत चुका हूं. अब पोलिंग बूथ जीतना बाकी है.

बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के बाद पीएम मोदी काल भैरव मंदिर पहुंचे. मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद पीएम मोदी कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हो गए. यहां पर उन्होंने पहले से मौजूद अन्य एनडीए के नेताओं से मुलाकात की. पीएम मोदी ने अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल के पैर भी छुए. इसके बाद वे कलेक्ट्रेट पहुंचे और नामांकन प्रक्रिया में हिस्सा लिया.

पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान जब प्रधानमंत्री मोदी नामांकन करने पहुंचे थे तो उनके प्रस्तावकों को लेकर काफी चर्चा हुई थी. इस बार पीएम मोदी के प्रस्तावक पिछली बार से एकदम अलग थे. पिछले साल के किसी प्रस्तावकों को इस बार मौका नहीं मिला. इस बार पीएम मोदी के प्रस्तावकों में मणिकर्णिका घाट निवासी डोमराजा के बेटे जगदीश चौधरी, हुकुलगंज के रहने वाले संघ व पार्टी के पुराने कार्यकर्ता सुभाष गुप्ता, एमबीबीएस डॉक्टर अन्नपूर्णा शुक्ला, प्रोफेसर रमाशंकर पटेल और एक चौकीदार भी शामिल रहे.

बता दें कि पीएम मोदी के नामांकन के दौरान एनडीए घटक दलों के कई दिग्गज नेता मौजूद रहे. इनमें बिहार के सीएम नीतीश कुमार, लोक जनशक्ति पार्टी के सुप्रीमो रामविलास पासवान, शिवसेना अध्‍यक्ष उद्धव ठाकरे और अकाली दल के मुखिया प्रकाश सिंह बादल मौजूद थे.

पीएम मोदी के नामांकन के दौरान बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, असम सीएम सर्वानंद सोनेवाल, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, जेपी नड्डा और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी समेत बीजेपी और एनडीए के तमाम नेता मौजूद थे.

ये भी पढ़ें-

ANALYSIS: डिंपल यादव का मायावती के पैर छूने के पीछे ये है सियासी गणित
Loading...

BJP को हराने के लिए नहीं, 2022 में UP सीएम बनाने के लिए चुनाव लड़ रही है कांग्रेस- अखिलेश

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 26, 2019, 12:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...