होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

वाराणसी के युवक ने प्रतिबंधित MP- 5 गन से की दनादन फायरिंग, जांच में सामने आई यह सच्चाई

वाराणसी के युवक ने प्रतिबंधित MP- 5 गन से की दनादन फायरिंग, जांच में सामने आई यह सच्चाई

बनारस में दनादन फायरिंग करते युवक का वीडियो वायरल.

बनारस में दनादन फायरिंग करते युवक का वीडियो वायरल.

Varanasi Viral Video: आलम ने बताया कि 2014 में वह अपने दोस्त सिकंदर के साथ सूरत गया था. सूरत से वह मुंबई गया. जहां एनएसजी में उन दिनों उसका आर्मी का एक दोस्त डेपुटेशन पर तैनात था. आलम ने बताया कि उसका दोस्त अपने साथियों के साथ फायरिंग रेंज में शूटिंग कर रहा था. उन्हें देख कर उसकी भी फायरिंग की इच्छा हुई. जिसपर उसके दोस्त तैयार हो गए. जिसके बाद उसने पांच राउंड फायरिंग की. आलम ने बताया कि उसके फायरिंग करने का वीडियो उसके दोस्त सिकंदर ने बना लिया था.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

युवक द्वारा दनादन फायरिंग का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल
पुलिस ने आरोपी युवक और उसके दोस्त को हिरासत में लिया

वाराणसी: धर्म की नगरी बनारस से एक युवक के उत्पात का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल है. युवक का प्रतिबंधित गन से दनादन फायरिंग का वीडियो वायरल होने से हड़कंप मच गया. दरअसल वीडियो में युवक, आम आदमी के लिए प्रतिबंधित MP-5 गन से फायरिंग करता दिख रहा है. यह वीडियो कुल 59 सेकेंड का है जिसमें युवक पांच राउंड फायरिंग करता दिख रहा है. वीडियो वायरल होने के बाद इसको लेकर चर्चा भी तेज हो गई है. सोशल मीडिया में लोग इसे बनारस से जोड़कर तरह तरह के दावे कर रहे हैं. लेकिन पुलिस पूछताछ में मामला कुछ और ही निकला. वायरल वीडियो को लेकर पुलिस ने बताया कि यह वीडियो अभी का नहीं है और न ही यह बनारस का है.

यह है पूरी सच्चाई
सोशल मीडिया में वीडियो तेजी से वायरल होने के बाद पुलिस सक्रिय हो गई. पुलिस ने भेलूपुर क्षेत्र के रेवड़ीतालाब इलाके से एक युवक और उसके दोस्त को हिरासत में लिया है. दोनों युवकों से पूछताछ की जा रही है. बताया गया कि रेवड़ीतालाब से हिरासत में लिए गए युवक का नाम आलम है. वह साड़ी छपाई से संबंधित काम से जुड़ा हुआ है. वीडियो को लेकर उसनने कहा कि वीडियो 2014 का है.

आलम ने बताया कि 2014 में वह अपने दोस्त सिकंदर के साथ सूरत गया था. सूरत से वह मुंबई गया. जहां एनएसजी में उन दिनों उसका आर्मी का एक दोस्त डेपुटेशन पर तैनात था. आलम ने बताया कि उसका दोस्त अपने साथियों के साथ फायरिंग रेंज में शूटिंग कर रहा था. उन्हें देख कर उसकी भी फायरिंग की इच्छा हुई. जिसपर उसके दोस्त तैयार हो गए. जिसके बाद उसने पांच राउंड फायरिंग की. आलम ने बताया कि उसके फायरिंग करने का वीडियो उसके दोस्त सिकंदर ने बना लिया था. वीडियो वायरल करने को लेकर उसने कहा कि उसे नहीं पता कि यह वीडियो अब कैसे वायरल हुआ है.

पुलिस कमिश्नर ने यह कहा
पूरे मामले को लेकर पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने बताया कि 2 युवकों को हिरासत में लिया गया है. आरोपियों से पूछताछ के बाद पता चला कि घटना 2014 की है. इस घटना का संबंध उत्तर प्रदेश से ना होकर किसी अन्य राज्य से है. पुलिस कमिश्नर ने कहा कहा कि घटना की रिपोर्ट तैयार कर ली गई है. इसकी पूरी रिपोर्ट वरिष्ठ अधिकारियों को भेजी जा रही है. उन्होंने कहा कि आरोपियों पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Chief Minister Yogi Adityanath, CM Yogi Aditya Nath, Uttarpradesh news, Varanasi news, Varanasi Police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर