Varanasi News: काशी में चर्चा का केंद्र बनी 'मास्क' वाली प्रतिमा, मां सरस्वती का बदला श्रृंगार

काशी में चर्चा का केंद्र बनी 'मास्क' वाली प्रतिमा

काशी में चर्चा का केंद्र बनी 'मास्क' वाली प्रतिमा

समिति के महामंत्री नीतीश सिंह ने बताया कि देश में कोरोना (Corona) का असर भले ही खत्म हो गया है, लेकिन खत्म नहीं हुआ है

  • Share this:
वाराणसी. बसंत पंचमी (Basant Panchami) पर्व पर मंगलवार को विद्या की अधिष्ठात्री देवी मां सरस्वती की पूजा घर-घर में हो रही है. इसी कड़ी में धर्म नगरी वाराणसी (Varanasi) में भी सरस्वती पूजा बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जा रहा है. पंडालों से लेकर घरों तक इस उत्सव की धूम है. इस बार वाराणसी में एक पूजा पंडाल में स्थापित सरस्वती की प्रतिमा खासा चर्चा में है. जहां मां सरस्वती खुद मास्क पहन कर विराजमान है, ऐसे में दूर-दराज से भी लोग विद्या की देवी को इस अवतार में देखने के लिए आ रहे हैं.

सिगरा स्थित सोनिया इलाके में स्थापित मां सरस्वती की प्रतिमा के श्रृंगार को नया रूप दिया गया है और मां के चेहरे पर मास्क लगा दिया गया है. ऐसे में बनारस में इस मास्क की चर्चा जोरों पर है. लोग दूर दूर से आकर मास्क वाली सरस्वती मां का दर्शन कर रहे हैं लेकिन आने वाले लोगो के लिए भी एक चेतावनी है. बिना मास्क के पंडाल में प्रवेश वर्जित है.

Unnao News: पंचायत चुनाव से पहले टॉयलेट की दीवार पर लिखा स्वतंत्रता सेनानी का नाम, जांच के आदेश

समिति के महामंत्री नीतीश सिंह ने बताया कि देश में कोरोना का असर भले ही खत्म हो गया है, लेकिन खत्म नहीं हुआ है ऐसे नें हम लोगों ने मास्क वाली प्रतिमा को स्थापित किया है. ताकि लोगो को जागरूक कर सके कि सावधानी बरतनी अभी जरूरी है. किशोर युवाओं ने अपने इस छोटे से प्रयास से जो संदेश दिया है वो वाकई काबिल-ए-तारीफ है. मास्क लगी हुई प्रतिमा को स्थापित कर इन युवाओं ने सबका ध्यान अपनी आकर्षित किया है और लोगो को आगाह किया है कि मास्क अभी जरूरी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज