Home /News /uttar-pradesh /

maulana tauqir raza attack on government in gyanvapi mosque survey comparison to dhritarashtra nodelsp

ज्ञानवापी मामले में बरसे मौलाना तौकीर रजा: कौरव पांडवों की सभा हो रहीं, 'धृतराष्ट्र' मौन हैं

ज्ञानवापी मस्जिद में कराए गए सर्वे को लेकर मौलाना तौकीर रजा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया है.

ज्ञानवापी मस्जिद में कराए गए सर्वे को लेकर मौलाना तौकीर रजा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया है.

Gyanvapi Masjid Survey Case: ज्ञानवापी मस्जिद में कराए गए सर्वे को लेकर मौलाना तौकीर रजा ने केंद्र सरकार पर निशाना साधाा. उन्होंने कहा कि कौरवों और पांडवों की सभायें हो रही हैं. उन्होंने कहा कि मैं हिन्दू भाइयों से कहना चाहूंगा कि आपके धर्म का किस तरह से मजाक उड़ा रहे हैं. इन्हें फाउंटेन और शिवलिंग में अन्तर समझ नहीं आता है.

अधिक पढ़ें ...

वाराणसी. ज्ञानवापी मस्जिद में कराए गए सर्वे को लेकर मौलाना तौकीर रजा ने बड़ा बयान दिया है. पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि कौरवों और पांडवों की सभायें हो रही हैं. मौलाना तौकीर रजा ने कहा कि ज्ञानवापी के सिलसिले में मैं हिन्दू भाइयों से कहना चाहूंगा कि आपके धर्म का किस तरह से मजाक उड़ा रहे हैं. इन्हें फाउंटेन और शिवलिंग में अन्तर समझ नहीं आता है.

तौकीर रजा ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि हर हौज में ऐसा शिवलिंग पाया जाता है. इस तरह वह हर मस्जिद को मंदिर बनाना चाहते हैं. हुकूमत बेईमानी करना चाहती है. ये ठीक नहीं है. इसके नतीजे गंभीर हो सकते हैं. दुनिया जानती है कि बाबरी मस्जिद का फैसला झूठा हुआ था. हमारी मजबूरी को कमजोरी न समझें. जाइये जामा मस्जिद के हौज का फोटो लीजिये. नौम्हला मस्जिद में भी पत्थर मौजूद है.

पाकिस्तान का बंटवारा मुसलमान ने नहीं करवाया
उन्होंने कहा कि आप लोग खामोश रहकर इस बेईमानी का समर्थन कर रहे हैं, जो काम ‘धृतराष्ट्र’ कर रहा है. पाकिस्तान का जो बंटवारा हुआ वो किसी मुसलमान ने नहीं करवाया. जिन्ना की खतना नहीं हुई थी. उनके वालिद जब मुसलमान हुए थे तो उनकी उम्र खतना के लायक नहीं थी. जिन्ना पूंजीलाल ठक्कर का बेटा है.

मौलाना तौकीर रजा ने कहा कि ज्ञानवापी में कानून का मजाक बनाया जा रहा है. कमरों की तलाशी लेने के लिए जिसे भेजा था उसने खुले में जो हौज है उसे देखा. ज्ञानवापी मस्जिद में अगर शिवलिंग है तो हर मस्जिद में ऐसा शिवलिंग है. हिंदुस्तान में ऐसे बहुत से मंदिर थे जहां मस्जिद बनाई गई. हुकूमत को इसका विरोध झेलना पड़ेगा. अब किसी तरह की कानूनी कार्रवाई की जरूरत नहीं है. बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने हमारी आस्था को नहीं माना. अब किसी कोर्ट में जाने की जरूरत नही है.

उन्होंने कहा कि ताजमहल के नीचे भी शिवलिंग मिल जाएगा. कुतुबमीनार पर भी शिवलिंग है. कब्जा करना चाहते हैं तो कब्जा करो. कोर्ट जाने की जरूरत नहीं. सब्र करने की जरूरत है.

उन्होंने कहा कि फैसला कुछ नहीं आने वाला है. इसके लिए देशव्यापी आंदोलन होगा. इतना अंधा कानून है जो फाउंटेन और शिवलिंग में फर्क नहीं कर पा रहा है. अंधे और बहरे, गूंगे कब तक बने रहोगे. हम कोर्ट के फैसले से असहमत हैं.

Tags: Pm narendra modi, UP news, Varanasi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर