काशी में मुस्लिम महिलाओं ने मनाई दीपावली, भगवान राम की आरती कर दिया संदेश

काशी में मुस्लिम महिलाओं ने मनाई दीपावली
काशी में मुस्लिम महिलाओं ने मनाई दीपावली

हनुमान चालीसा फेम नाजनीन अंसारी द्वारा उर्दू में रचित श्रीराम आरती एवं श्रीराम प्रार्थना हर रामनवमी पर मुस्लिम महिलाओं (Muslim Womens) द्वारा गाया जाता है.

  • Share this:
वाराणसी. प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) में मुस्लिम महिलाओं (Muslim Womens) ने दीपावली के पावन पर्व पर भगवान राम की आरती की. मुस्लिम महिलाओं ने हिन्दू महिलाओं के साथ मिलकर भगवान श्रीराम, माता जानकी, लक्ष्मण और हनुमान की महाआरती कर दुनियां को भारत के विश्व बंधुत्व के संदेश से परिचित कराया. इस मौके पर लमही स्थित इंद्रेश नगर में मुस्लिम महिलाओं ने रंगोली बनाया, रंग-बिरंगे दीप सजाये और नाजनीन अंसारी द्वारा उर्दू में रचित श्री राम आरती और श्री राम प्रार्थना का गायन किया. किसी के हाथ में आरती की थाली थी, किसी ने लोहबान जलाया और किसी ने कर्पूर. इस दौरान वातावरण को शुद्ध करने वाली सारी सामग्री जलाई गई.

सजावटी थाली में आरती सजाकर लय बद्ध तरीके से आरती गाने वाली मुस्लिम महिलाओं ने दुनियां को भारत के सांस्कृतिक संबंध से परिचित कराया. श्रीराम महाआरती कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महंत बालक दास जी महाराज ने मुस्लिम महिलाओं के साथ आरती में भाग लिया. आरती के बारे में नाजनीन अंसारी ने कहा कि आज हम सबने मिलकर प्रभु श्रीराम की आरती की क्योंकि भारत में आज जो भी है उनके पूर्वज प्रभु श्रीराम है.

ये भी पढे़ं- अखिलेश यादव का बड़ा ऐलान- 2022 में किसी बड़े दल से गठबंधन नहीं, सरकार बनी तो शिवपाल होंगे कैबिनेट मंत्री



उन्होंने बताया कि रामनवमी के अवसर पर पिछले 14 वर्षो से सांप्रदायिक एकता के सूत्र में देश को बांधने के लिए मुस्लिम महिलाएं भगवान श्रीराम की आरती करती आ रही हैं. हनुमान चालीसा फेम नाजनीन अंसारी द्वारा उर्दू में रचित श्रीराम आरती एवं श्रीराम प्रार्थना हर रामनवमी पर मुस्लिम महिलाओं द्वारा गाया जाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज