वाराणसी में नेपाली नागरिक का जबरन किया मुंडन, पीएम ओली मुर्दाबाद के नारे लगवाए
Varanasi News in Hindi

वाराणसी में नेपाली नागरिक का जबरन किया मुंडन, पीएम ओली मुर्दाबाद के नारे लगवाए
विश्व हिंदू सेना ने वाराणसी में नेपाली नागरिक का जबरन मुंडन किया.

विश्व हिंदू सेना के संरक्षक अरुण पाठक अपने कार्यकर्ताओं के इस कदम को सही ठहराते हैं. उनका कहना है कि उनके कार्यकर्ताओं द्वारा यह कदम उठाया गया है. उनका यह कदम सही है.

  • Share this:
वाराणसी. बनारस में रहने वाले नेपाली नागरिक (Nepali Citizen) का बुधवार को जबरन मुंडन कर दिया है. उस नेपाली नागरिक के सिर पर जय श्रीराम का नारा लिखा गया और उससे नेपाली प्रधानमंत्री मुर्दाबाद का नारा लगवाया गया है. यह विवादित कदम पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) में विश्व हिंदू सेना ने उठाया. विश्व हिंदू सेना ने सोशल मीडिया पर इसका वीडियो जारी करते हुए एक बार फिर से नेपाल के पीएम केपी शर्मा (Nepali CM KP Sharma Oli) ओली को चेतावनी दी है. साथ ही बनारस में रह रहे नेपाली नागरिकों को भी यह चेतावनी दी है कि यदि नेपाल के पीएम लगातार ऐसे बयान देंगे तो इसका परिणाम उन्हें भुगतना होगा.

विश्व हिंदू सेना ने तस्वीर जारी की

विश्व हिंदू सेना ने आज सोशल मीडिया पर एक तस्वीर जारी की जिसमें पशुपतिनाथ जी मंदिर के प्रांगण में पोस्टर चिपका हुआ था रहा है. इस पोस्टर में यह लिखा था कि नेपाल के पीएम ओली भगवान श्रीराम के बारे में दिया गया अपना बयान वापस ले लें, वरना नेपाली नागरिकों को परिणाम भुगतना होगा. सुबह पोस्टर चिपकाने के बाद ही शाम को विश्व हिंदू सेना ने विवादित कदम उठाया और घाट के किनारे जा रहे एक नेपाली नागरिक को रोक कर उसका मुंडन कर दिया.



जय श्रीराम का नारा सिर पर लिखा
नेपाली नागरिक का मुंडन कर बकायदा उसके सिर पर जय श्रीराम लिख कर उसे जय श्रीराम के जयकारे लगाए गए. इसके अलावा नेपाली पीएम मुर्दाबाद के भी नारे लगवाए गए. इस नेपाली नागरिक से बुलवाया गया कि वह इस देश में ही रहता है और यहीं का खाता है और श्रीराम का जन्म भारत में ही हुआ था. वे नेपाल के नहीं हैं.

संरक्षक ने कार्यकर्ताओं के कदम को सही बताया

विश्व हिंदू सेना के संरक्षक अरुण पाठक अपने कार्यकर्ताओं के इस कदम को सही ठहराते हैं. उनका कहना है कि उनके कार्यकर्ताओं द्वारा यह कदम उठाया गया है. उनका यह कदम सही है. नेपाली प्रधानमंत्री लगातार भारत के प्रति अपना जहर उगल रहे हैं. लेकिन जब बात हमारे भगवान श्रीराम की होगी, तो यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. अगर ओली ने लगातार ऐसा ही बयान दिया तो बनारस में रह रहे नेपालियों के लिए परिणाम गंभीर होगा. ऐसे में पीएम ओली को अपना बयान बदलना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading