PM मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से राहत वाली खबर! 8 दिनों से नहीं मिला कोई कोरोना पॉजिटिव
Varanasi News in Hindi

PM मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से राहत वाली खबर! 8 दिनों से नहीं मिला कोई कोरोना पॉजिटिव
पीएम मोदी

COVID-19: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 7 अप्रैल से एक भी कोरोना पॉजिटिव का मामला सामने नहीं आया है.

  • Share this:
वाराणसी. पूरे देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से एक राहत देने वाली खबर आ रही है. जानकारी मिल रही है कि पूरे वाराणसी में पिछले आठ दिनों में कोई भी नया पॉजिटिव केस नहीं मिला है. इससे पहले वाराणसी के गंगापुर इलाके में 2 महिलाएं कोरोना से संक्रमित मिली थीं. माना जा रहा है कि यहां मिले कोरोना संक्रमित मरीजों से ये बीमारी दूसरों तक नहीं पहुंची. दैनिक हिन्‍दुस्‍तान की खबर के अनुसार, वाराणसी में अब तक 9 मरीज मिले हैं. इनमें ने 2 पूरी तरह ठीक होकर अपने घर वापस लौट चुके हैं. इसके अलावा यहां के जिला अस्पताल में 6 लोगों का इलाज जारी है. वहीं, एक मरीज की मौत हो चुकी है.

बता दें कि वाराणसी के गंगापुर में में कोरोना से एक व्यापारी की मौत हुई थी. 7 अप्रैल को जानकारी मिली कि उसकी पत्नी और बहू भी इससे संक्रमित हैं. बताया जा रहा है कि इनका संक्रमण और लोगों तक नहीं पहुंचा.

मिली कोरोना से राहत
वाराणसी में 7 अप्रैल के बाद कोरोना का कोई भी पॉजिटिव मरीज नहीं मिला है. जानकारी मिल रही है कि मंगलवार को 36 लोगों की जांच रिपोर्ट मिली, इनमें से कोई भी कोरोना से संक्रमित नहीं है. इस लिस्ट में जैतपुरा के रहने वाले वे लोग भी शामिल हैं, जिन्हें संदिग्ध माना जा रहा था. इससे पहले लोहता इलाके में एक युवक के कोरोना पॉजिटिव मिला था. जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने इसकी ट्रैवल हिस्ट्री निकाली. इसके बाद इससे मिलने वाले 12 लोगों की जांच कराई गई. राहत वाली खबर ये रही कि इन सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है.
बीएचयू के छात्रों की हुई स्कैनिंग


काशी हिन्दु विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले अंतराष्टीय छात्रों की थर्मल स्कैनिंग कराई जा रही है. यहां के इंटरनेशनल हॉस्टल में लगभग 34 देशों के लोग रहते हैं. इन सब की थर्मल स्कैनिंग हो चुकी है. हॉस्टल के संरक्षक ने स्थिति को पूरी तरह सामान्य बताया है. संरक्षक के अनुसार, यहां के हॉस्टल में अभी करीब 37 छात्राएं और 75 छात्र रहते हैं.

 

ये भी पढ़ें:

Covid 19: दिल्ली में अब मुश्किल नहीं होगा मरकज़ से जुड़े जमातियोंं को तलाशना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading