Home /News /uttar-pradesh /

ISI एजेंट राशिद के चंदौली और वाराणसी घर पर NIA की छापेमारी

ISI एजेंट राशिद के चंदौली और वाराणसी घर पर NIA की छापेमारी

जनवरी में पकड़ा गया था आईएसआईएजेंट राशिद

जनवरी में पकड़ा गया था आईएसआईएजेंट राशिद

राशिद का पाकिस्तान (Pakistan) की एक युवती से निकाह की बात भी चल रही थी, जिसको लेकर वह लगातार पाकिस्तान के लोगों के संपर्क में था.

वाराणसी. आएसआई एजेंट (ISI Agent) राशिद (Rashid) के खिलाफ दर्ज मामले की जांच की जिम्‍मेदारी एनआईए (NIA) को सौंप दी गई है. इसके बाद नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी की टीम ने रविवार को आईएसआई एजेंट राशिद को लेकर उसके मूल निवास चंदौली के चौरहट गांव पहुंची थी, जहां पर राशिद अपनी तलाकशुदा मां के साथ रहता था. एनआईए की टीम ने राशिद की मां से सघन पूछताछ की जिसके बाद एक मोबाइल फोन और कुछ कागज़ात बरामद हुए हैं.

इससे पहले एटीएस जांच में खुलासा हो चुका है कि राशिद अपने रिश्तेदारों के पास दो बार पाकिस्तान जा चुका है. राशिद का पाकिस्तान की एक युवती से निकाह की बात भी चल रही थी, जिसको लेकर वह लगातार पाकिस्तान के लोगों के संपर्क में था. बताया जाता है कि इस दौरान ही आईएसआई के लोगों की नजर उस पर पड़ी और उन्होंने राशिद को अपना एजेंट बना लिया. 19 जनवरी को जब राशिद को एटीएस ने गिरफ्तार किया था, तभी खुलासा हुआ था कि उसने व्हाट्सएप के जरिए कई महत्वपूर्ण ठिकानों की फोटो, वीडियो और आर्मी के मूवमेंट की जानकारी पाकिस्तान में बैठे आईएसआई के हैंडलर्स को दी थी.

ISI ने उपलब्ध करवाए थे दो भारतीय सिम
आईएसआई के हैंडलर्स ने ही दो भारतीय सिम कार्ड राशिद को भी उपलब्ध कराए थे. जिससे ये जानकारी भेजी जा रही थी. एनआईए की टीम थाना लंका इलाके के चित्तूपुरा इलाके में भी गई जहां किराए पर राशिद रहता था. वाराणसी में राशिद फ्लैक्स बैनर लगाने का काम करता था.

Tags: UP news, UP police, Varanasi news

अगली ख़बर