लाइव टीवी

वाराणसी में गंगा की मैली तो होगी जेब ढीली, नगर निगम ने लगाया भारी जुर्माना

Upendra Dwivedi | News18 Uttar Pradesh
Updated: January 15, 2020, 9:03 AM IST
वाराणसी में गंगा की मैली तो होगी जेब ढीली, नगर निगम ने लगाया भारी जुर्माना
वाराणसी में गंगा को प्रदूषित करने पर देना होगा भारी जुर्माना

ऑक्सीजन में सुधार होने के बाद अब वाराणसी नगर निगम और भी गंभीर हो गया है. गंगा को साफ़ रखने के लिए अब उसमें गंदगी करने वालों को सबक सिखाने के लिए जुर्माना लगाया जाएगा.

  • Share this:
वाराणसी. गंगा (Ganga River) में अब गंदगी (Pollution) करना महंगा पड़ सकता है. एक छोटी सी गलती आपकी जेब ढीली कर सकती है. जी हां, एनजीटी (NGT) की सख्ती के बाद वाराणसी नगर निगम (Varanasi Municipal Corporation) ने बड़ा कदम उठाया है. गंगा में गंदगी करने वालों पर अब जुर्माना तय कर दिया गया है. जैसी गंदगी वैसा जुर्माना. वो भी सैकड़ों में नहीं हजारो में.

घुलनशील आक्सीजन की क्षमता बढ़ने से उत्साहित अफसर

दरअसल, गंगा में घुलनशील आक्सीजन की क्षमता बढ़ने से उत्साहित अफसर अब गंगा सफाई को लेकर नया कदम उठाने जा रहे हैं. ऑक्सीजन में सुधार होने के बाद अब वाराणसी नगर निगम और भी गंभीर हो गया है. गंगा को साफ़ रखने के लिए अब उसमें गंदगी करने वालों को सबक सिखाने के लिए जुर्माना लगाया जाएगा.

इतना देना होगा जुर्माना

वाराणसी के अपर नगर आयुक्त अजय सिंह ने बताया कि नगर निगम ने गंगा घाट पर गंदगी फैलाने वालों पर 25,000 रुपये जुर्माना लगाने की तैयारी कर ली है. उनका मानना है कि जुर्माना लगाने से लोग गंगा में गंदगी कम करेंगे. नदी को प्रदूषित कम करेंगे. जुर्माने की जो राशि तय हुई है, उसके मुताबिक, गंगा घाट पर कपड़े धोने पर 5,000 रुपये से 25,000 रुपये तक जुर्माना लगाया जा सकता है. इसके अलावा प्रतिमा विसर्जन, पूजा सामग्री विसर्जित करने पर 10,000 रुपये तक, गंगा किनारे मल-मूत्र विसर्जन पर 10-20 हजार रुपये तक जुर्माना तय किया गया है. इस प्रस्ताव पर गंगा समिति की बैठक में मुहर लगना बाकी है. जो जल्द लग जाएगी.

लोगों ने किया स्वागत

इस जुर्माने के तहत आवासीय भवनों के अलावा होटल, रेस्टोरेंट और अन्य प्रतिष्ठानों से निकलने वाला सीवेज व गंदा पानी गंगा में जाने पर इनके मालिकों व संचालकों पर भी जुर्माना लगाया जाएगा. नगर निगम के इस कदम का काशी विद्वत परिषद् के मंत्री राम नारायण दिवेदी ने भी स्वागत किया है. उनका कहना है कि हर दंड का जुर्माना तय होता है ऐसे में गंगा में भी गंदगी करने वालों के ऊपर ये जुर्माना का प्रावधान बिल्कुल सही है.

ये भी पढ़ें:

प्रयागराज: मकर संक्रांति के पर्व पर संगम में उमड़ा आस्था का सैलाब

लखनऊ के पहले CP बोले- पब्लिक डिलीवरी सिस्टम को सुधारेगी कमिश्नरी व्यवस्था

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 9:03 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर