Home /News /uttar-pradesh /

Explainer: वाराणसी में कचरे से बनेगा कोयला,NTPC लगाएगा देश का पहला प्लांट 

Explainer: वाराणसी में कचरे से बनेगा कोयला,NTPC लगाएगा देश का पहला प्लांट 

वाराणसी

वाराणसी में कचरे से बनेगा कोयला NTPC लगाएगा प्लांट

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) यू तो धर्म और संस्कृति के लिए विख्यात है. लेकिन काशी अब देश-दुनिया को कचरे से कोयला बनाने का मंत्र भी देगा. कचरे से कोयला बनाने का देश का पहला प्लांट बनारस के रमना में बनने जा रहा है.बहुत जल्द ही कचरे से कोयला बनाने का प्लांट लगाया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) यू तो धर्म और संस्कृति के लिए विख्यात है. लेकिन काशी अब देश-दुनिया को कचरे से कोयला बनाने का मंत्र भी देगा. कचरे से कोयला बनाने का देश का पहला प्लांट बनारस के रमना में बनने जा रहा है.बहुत जल्द ही कचरे से कोयला बनाने का प्लांट लगाया जाएगा. वाराणसी नगर निगम (Nagar Nigam) के सहयोग से एनटीपीसी (NTPC) वाराणसी के रमना में इस वेस्ट टू एनर्जी प्लांट को लगाएगी. बात इस प्लांट की करे तो इसकी क्षमता 800 एमटी कूड़ा निस्तारण की होगी.इसके अलावा ये प्लांट पूरी तरह से इको फैंडली होगा जिससे आस पास रहने वाले लोगो को किसी तरह की परेशानी न हो. सब कुछ ठीक रहा तो नवम्बर महीनें से इस प्लांट के निर्माण का काम शुरू हो जाएगा. नगर निगम के अफसरों के मुताबिक इस प्लांट के निर्माण में करीब 150 करोड़ रुपये खर्च होंगे.
    इन दिनों बिजली उत्‍पादन इकाइयों में कोयला संकट को देखते हुए कूड़े से कोयला बनाने का यह प्रोजेक्ट देश में नई ऊर्जा क्रांति ला सकता है.

    Tags: Varanasi news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर