वाराणसी में मौजूद थे CM योगी, मोबाइल टॉर्च की रोशनी में जारी था मरीजों का इलाज
Varanasi News in Hindi

वाराणसी में मौजूद थे CM योगी, मोबाइल टॉर्च की रोशनी में जारी था मरीजों का इलाज
मोबाइल टॉर्च की रोशनी में जारी था मरीजों का इलाज

मंडलीय अस्पताल के एक कर्मचारी ने नाम का न छापने के शर्त पर बताया कि यह तस्वीर अक्सर सामने आती है. बिजली जाती है जनरेटर का व्यवस्था तो है लेकिन उसे शुरू होने में 25 से 30 मिनट का वक्त लगता है.

  • Share this:
वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में तमाम इंतजाम होने के बावजूद टॉर्च की रोशनी का सहारा लेना पड़ रहा है. वाराणसी के शिवप्रसाद गुप्त मंडलीय अस्पताल में मोबाइल टॉर्च की रोशनी में इलाज किया जा रहा है. वो भी उस वक्त जब सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ वाराणसी के दौरे पर थे. मामला मंडलीय अस्पताल के एक्स-रे विभाग का है. जहां बिजली चले जाने के कारण मरीजों को लंबा इंतजार करना पड़ता है. तो वही एक्सरे विभाग के कर्मचारी कागजों को आगे बढ़ाने के लिए मोबाइल के टॉर्च की रोशनी का सहारा लेते हैं.

मंडलीय अस्पताल के एक कर्मचारी ने नाम का न छापने के शर्त पर बताया कि यह तस्वीर अक्सर सामने आती है. बिजली जाती है जनरेटर का व्यवस्था तो है लेकिन उसे शुरू होने में 25 से 30 मिनट का वक्त लगता है. जिसके कारण हमें इस जुगाड़ में काम करना पड़ता है. वहीं सीएमएस डॉ. बीएन श्रीवास्तव का कहना है 5 मिनट के अंदर जनरेटर शुरू हो जाता है और काम फिर सुचारू रूप से चलता है.

इस आधुनिकता के समय में भी इस बड़े अस्पताल में कैसे जुगाड़ से काम चल रहा है. वाराणसी के साथ ही अन्य शहरों से भी लोग यहां पर आकर इलाज कराते हैं. ऐसे में अस्पताल की ये तस्वीरें उन विकास कार्यों पर सवाल खड़ा करती हैं. बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भारत सरकार के रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल ने शनिवार वाराणसी के दौरे पर थे. जहां सीएम योगी ने निर्माण कार्यों की जानकारी ली.



ये भी पढे़ं:
जेल में बंद SP सांसद आजम खान पर संपत्ति कब्जाने का केस दर्ज, जौहर यूनिवर्सिटी को टेकओवर की तैयारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज