लाइव टीवी

‘जब काशी को देखकर गांधीजी को हुई थी पीड़ा, बोले- भोले बाबा का स्थान ऐसा क्यों?’

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 8, 2019, 7:18 PM IST

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि BHU के एक कार्यक्रम में बापू अपने मन की व्यथा बताने से खुद को रोक नहीं पाए थे. उनके मन में भी पीड़ा थी कि भोले बाबा का स्थान ऐसा क्यों?

  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कई योजनाओं की सौगात दी. पीएम मोदी ने अपने दौरे की शुरुआत काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना से की, जिसके बाद उन्होंने अपने ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की नींव रखी.  इसके बाद पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा कि जब महात्मा गांधी यहां आए थे, तो उनके मन में भी ये पीड़ा थी कि भोले बाबा का स्थान ऐसा क्यों?

प्रधानमंत्री ने कहा कि BHU के एक कार्यक्रम में बापू अपने मन की व्यथा बताने से खुद को रोक नहीं पाए थे. मोदी ने कहा कि जब मैं प्रधानमंत्री नहीं था, तब भी यहां आता था और मुझे लगता था कि यहां कुछ करना चाहिए. लेकिन भोले बाबा ने तय किया होगा कि बेटे बातें बहुत करते हो यहां आओ और कुछ करके दिखाओ और आज भोले बाबा के आशीर्वाद से वो सपना पूरा हो रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि सदियों से ये स्थान दुश्मनों के निशाने पर रहा, कितनी बार ध्वस्त हुआ, अपने अस्तित्व के बिना जिया. लेकिन यहां की आस्था ने इसे पुनर्जीवित किया और ये क्रम सदियों से चल रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि ये काशी विश्वनाथ धाम, अब काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर के रूप में जाना जाएगा. इससे काशी की पूरे विश्व में एक अलग पहचान बनेगी.

ये भी पढ़ें-

लखनऊ मेट्रो पर अखिलेश का PM मोदी पर तंज, बोले- आखिरी बार कर रहे हैं उद्घाटन का शौक पूरा

कांग्रेस ने मजबूत कैंडिडेट उतारकर मुकाबला बनाया त्रिकोणीय, गठबंधन की बढ़ी मुश्किलें!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 8, 2019, 11:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...