लाइव टीवी

UP के एक रिक्‍शा चालक को PM मोदी ने लिखा पत्र, जानिए पूरा मामला
Varanasi News in Hindi

Upendra Dwivedi | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 13, 2020, 11:08 PM IST
UP के एक रिक्‍शा चालक को PM मोदी ने लिखा पत्र, जानिए पूरा मामला
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी के रिक्‍सा चालक को लिखा पत्र.

बनारस में आजकल रिक्शा चालक मंगल केवट (Mangal Kewat) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) द्वारा भेजा गया पत्र चर्चा में हैं. जबकि गंगा किनारे के डोमरी गांव में रहने वाला केवट परिवार भी इस पत्र के कारण काफी खुश है.

  • Share this:
वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) अक्सर अपने कुछ खास कामों को लेकर चर्चा में रहते हैं. इस बार वो अपने एक पत्र को लेकर चर्चा में हैं, जो उन्होंने बनारस के एक रिक्शा चालक मंगल केवट (Mangal Kewat) को भेजा है. मंगल केवट गंगा किनारे के डोमरी गांव के रहने वाले हैं. आपको बता दें कि जयपुरा के साथ ही पीएम मोदी ने डोमरी गांव (Domri Village) को भी गोद लिया हुआ है.

इस कारण पीएम ने भेजा पत्र
पत्र क्यों भेजा, ये सवाल आपके मन में भी कौंध रहा होगा. दरअसल, मंगल केवट ने अपनी बेटी की शादी में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रण पत्र भेजा था. जबकि आमंत्रण पत्र प्रधानमंत्री के दिल्ली और वाराणसी कार्यालय पर दिया गया था. वहीं पत्र भेजकर मंगल केवट अपनी बेटी की शादी की तैयारियों में जुट गए, लेकिन बेटी की शादी से कुछ घंटे पहले घर पर एक पत्र आया, जिसे देखकर मंगल केवट और उनके परिवार वालों की आंखों से खुशी के आंसू छलक आए. ये पत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का था. यही नहीं, आज यानी 13 फरवरी को मंगल केवट की बेटी की शादी में हर ओर पीएम के इस पत्र की चर्चा रही. शादी से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पत्र भेजकर बेटी और उसके जीवनसाथी समेत पूरे परिवार को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं. खैर, जो कोई भी शादी में पहुंचा, मंगल केवट ने उसे पीएम का बधाई संदेश जरूर दिखाया.

कुछ ऐसी है मंगल केवट की कहानी

बनारस के राजघाट निवासी मंगल केवट की कहानी किसी नजीर से कम नहीं है. बनारस में गंगा किनारे कई लोग उन्हें गंगा पुत्र भी कहते हैं. रिक्शा चलाकर परिवार चलाने वाले मंगल पीएम से बेहद प्रभावित हैं. यही वजह है कि वह जो कुछ भी कमाते हैं, उसमें से कुछ हिस्सा मां गंगा के लिए खर्च करते हैं. अपने खर्च पर ही राजघाट पुल व उसके पास गंगा के किनारे प्रतिदिन स्वच्छता अभियान चलाते हैं. महापुरुषों की प्रतिमा को स्नान कराने के साथ लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने में भी जुटे रहते हैं. पिछले वर्ष वह रिक्शा चलाकर पीएम मोदी से मिलने नई दिल्ली जाने के लिए जिला अधिकारी से अनुमति मांगने पहुंचे थे.

PM Modi, Mangal Kewat, Ganga, पीएम मोदी, मंगल केवट, गंगा
मंगल केवट रिक्शा चलाक हैं.


पीएम ने दिलाई भाजपा की सदस्‍यतापिछले साल जब पीएम मोदी बीजेपी के सदस्यता अभियान की शुरुआत करने बनारस आए थे तो उन्होंने अपने हाथ से मंगल केवट को बीजेपी की सदस्यता दिलाई थी. इसके बाद से मंगल केवट का उत्साह चरम पर है और वह लगातार स्वच्छता अभियान चलाने में जुटे हैं.

 

ये भी पढ़ें-

सांसद-IPS की पीसीएस बेटी को 'बेरोजगार' से हुआ प्‍यार, एक शर्त ने बदल दी जिंदगी

ख्वाजा गरीब नवाज के उर्स के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेन, इन शहरों को होगा फायदा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 11:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर