लाइव टीवी

CAA: प्रदर्शनों के बीच पोस्टर वाॅर, वाराणसी में लगे मुस्लिमों को 'घर वापसी' की सलाह देने वाले पोस्टर
Varanasi News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 20, 2020, 12:05 PM IST
CAA: प्रदर्शनों के बीच पोस्टर वाॅर, वाराणसी में लगे मुस्लिमों को 'घर वापसी' की सलाह देने वाले पोस्टर
वाराणसी में लगे पोस्टर.

हिन्‍दू समाज पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रोशन पाण्डेय ने ये पोस्टर वाराणसी (Varanasi) के इंग्लिशिया लाइन तिराहे पर लगवाए हैं.

  • Share this:
वाराणसी. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) संसद से पारित होने के बाद से ही दिल्ली के शाहीन बाग सहित देश के कई हिस्सों में विरोध और समर्थन में प्रदर्शन हो रहे हैं. उधर, इन प्रदर्शनों को लेकर पोस्टर वॉर भी शुरू हो गई है. इसी क्रम में अब वाराणसी में एक पोस्टर सामने आया है, जिसमें मुस्लिमों को घर वापसी की सलाह दी गई है. हिन्‍दू समाज पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रोशन पाण्डेय ने ये पोस्टर जारी किए हैं. रोशन पाण्डेय ने ये पोस्टर इंग्लिशिया लाइन तिराहे पर लगवाए हैं, जिसमें मुस्लिम महिलाओं को हिंदू धर्म में परिवर्तित होने के साथ-साथ मुसलमानों को हिंदू धर्म में घर वापसी करने पर एनआरसी और सीएए से छुटकारा देने की संदेश लिखा है.

रोशन पाण्डेय ने शाहीन बाग में कथित तौर पर लगे हिन्‍दू विरोधी पोस्टर का शीर्षक 'हम देखेंगे' को भी अपने पोस्टर के माध्यम से 'हम भी देखेंगे और हम देख रहे हैं' लिखा है. रोशन पाण्डेय ने शाहीन बाग विरोध को हिंदू विरोध बताते हुए कहा कि शाहीन बाग में मुसलमानों द्वारा तीन महिलाओं को बुर्क़ा पहने और माथे पर बिंदी लगाए दिखाया गया है. इसके अलावा, पोस्टर के नीचे, फ़ैज़ की कविता ‘हम देखेंगे’ शीर्षक से कुछ पंक्तियाँ भी लिखी हुई हैं. अंत में स्‍वास्तिक को खंडित कर उसका विघटित रूप दर्शाया गया.

Poster varanasi
हिन्दू समाज पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रोशन पाण्डेय ने ये पोस्टर जारी किया है.


रोशन पाण्डेय ने कहा कि यह पोस्टर स्पष्ट रूप से हिन्‍दुओं पर इस्लामी वर्चस्व की स्थापना और हिन्‍दुओं के घृणा जताने की मंशा से ओत-प्रोत थी. उन्‍होंने बताया कि इसके बाद हिन्‍दू समाज पार्टी की तरफ से मैंने ये पोस्टर जारी कर उन लोगों को जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि ये पोस्टर मैंने बहुत सोच समझकर लगवाया है. हमें मुसलमानों से कोई आपत्ति नहीं है, वे हमारे हिन्‍दू भाई ही हैं.

रिपोर्ट: रवि पांडेय

ये भी पढ़ें:जानिए भारत के किस शहर में आर्मी का मूवमेंट जानना चाह रही पाकिस्तानी सेना

BHU वीसी के खिलाफ बनारस शहर में लगे होर्डिंग, हिंदी विरोधी बताकर मांगा इस्तीफा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 11:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर