अपना शहर चुनें

States

वाराणसी: बेकाबू Corona पर कंट्रोल के लिए 1 लाख बेलपत्र से भगवान शिव का किया अभिषेक

कोरोना महामारी से निबटने के लिए विशेष पूजा का आयोजन एक महीने तक चलेगा.
कोरोना महामारी से निबटने के लिए विशेष पूजा का आयोजन एक महीने तक चलेगा.

सोमवार को भगवान शिव (Lord Shiva) को एक लाख बेलपत्रों से अभिषेक किया गया. इस अनुष्ठान में 24 वैदिक ब्राह्मणों ने हिस्सा लिया. ये अभिषेक कोरोना (Corona) के निवारण हेतु किया गया.

  • Share this:
वाराणसी. देश में ठंड के साथ कोरोना (Corona) का तेज प्रसार शुरू हो गया है. ऐसे में इसको रोकने के लिए सावधानी बरतने के साथ-साथ हवन पूजन भी किया जा रहा है. काशी (Kashi) में इस विश्व आपदा से निबटने के लिए विशेष अनुष्ठान चल रहा है. प्रत्येक सोमवार को बाबा विश्वनाथ (Baba Vishwanath) के स्वरूप में शिवलिंग बनाकर एक लाख बेलपत्रों से अभिषेक किया जा रहा है.

वाराणसी के शिवाला स्थित पंचकोटी हाउस में व्यासी इंडिया एवं वैदिक फाउंडेशन की ओर से कार्तिक मास आध्यात्मिक महोत्सव का आयोजन किया गया है. जिसकी शुरुआत 14 नवम्बर को हुई है. और ये 15 दिसम्बर तक चलेगा. इस महोत्सव में पूरे एक माह तक शिव का पूजन किया जाएगा. जिसका उद्देश्य कोरोना यानि विश्व आपदा का निवारण है. एक माह के इस पूजन में हर सोमवार को विशेष पूजन किया जा रहा है.

आज सोमवार को भगवान शिव को एक लाख बेलपत्रों से अभिषेक किया गया. इस अनुष्ठान में 24 वैदिक ब्राह्मणों ने हिस्सा लिया. ये अभिषेक कोरोना के निवारण हेतु किया गया.




इस विशेष पूजा में हिस्सा लेने हैदराबाद से आये भार्गव जी ने बताया कि कोरोना निवारण के लिए देश में बहुत से अनुष्ठान चल रहे हैं, लेकिन ये अनुष्ठान खास है, क्योंकि किसी आपदा पर जीत के लिए भगवान शिव की पूजन की जाती है. जिसमें बेल पत्र से अभिषेक खास होता है. भगवान राम ने भी बेल पत्र से अभिषेक किया था. इसलिए कोरोना से विश्व को बचाने के लिए इस यज्ञ का अनुष्ठान किया गया.

इस अनुष्ठान में शामिल सभी वैदिक ब्राह्मण काशी हिंदू विश्वविद्यालय के ज्योतिष और कर्मकांड के विद्वान हैं. ये लोग आपदा निवारण के लिए पूरे एक माह तक चलने वाले इस महायज्ञ को सफल बनाने के लिए तन मन और धन से जुटे हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज