लाइव टीवी

वाराणसी केंद्रीय कारागार में कैदी ले रहे म्यूजिक की क्लास
Varanasi News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 24, 2020, 2:06 PM IST
वाराणसी केंद्रीय कारागार में कैदी ले रहे म्यूजिक की क्लास
वाराणसी जेल में सजायाफ्ता कैदी म्यूजिक क्लास ले रहे हैं.

एक कैदी जावेद अली ने बताया कि तकरीबन 2 वर्षों से क्लासिकल म्यूजिक सीख रहे हैं. उन्होंने बताया कि वह जेल प्रशासन की मदद से आगे संगीत सीख रहे हैं. वह चाहते हैं कि यहां से कुछ ऐसा संगीत सीख कर बाहर जाएं कि वह लोगों के लिए प्रेरणा बनें.

  • Share this:
वाराणसी. कहते हैं संगीत से सभी तरह के तनाव दूर हो जाते हैं. इसी की बानगी पेश कर रहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) का केंद्रीय कारागार (Central jail). यहां सजायाफ्ता कैदियों को संगीत की शिक्षा (Music Education) दी जा रही है ताकि वो तनावरहित रहने के साथ ही अपनो से दूर होने का गम भी भूल सकें. काशी के केंद्रीय कारागार में हत्या, बलात्कार जैसी केसों में आजीवन कारावास की सजा काट रहे कैदियों को कारागा प्रशासन संगीत की शिक्षा दे रहा है. प्रशासन का मानना है कि इससे कैदियों की मानसिक स्थिति सही रहेगी और वे तनावरहित रहेंगे.

डिप्टी जेलर डीपी सिंह ने बताया कि संगीत का प्रशिक्षण इन बंदियों को दिया जा रहा है और हमारे यहां 99 प्रतिशत सजायाफ्ता बंदी हैं. ज्यादातर को आजीवन कारावास हुआ है. संगीत में इन्हें शामिल कर इनके तनाव को दूर किया जाता है और साथ ही इन्हें एक ऐसी शिक्षा दी जाती है, जिससे आगे रिहा होने के बाद यहां से आगे भी अच्छा काम कर सकें.

दो साल से जेल में क्लासिकल म्यूजिक सीख रहे जावेद अली
एक कैदी जावेद अली ने बताया कि तकरीबन 2 वर्षों से क्लासिकल म्यूजिक सीख रहे हैं. उन्होंने बताया कि वह जेल प्रशासन की मदद से आगे संगीत सीख रहे हैं. वह चाहते हैं कि यहां से कुछ ऐसा संगीत सीख कर बाहर जाएं कि वह लोगों के लिए प्रेरणा बनें. जेल में रहते हुए भी कैदी कुछ हासिल कर सकता है.

रिपोर्ट: अनुज सिंह

ये भी पढ़ें:

फर्जी मार्कशीट पर नौकरी पाने वाले 30 और टीचर बर्खास्त, 84 के खिलाफ FIR के आदेशनागरिकता कानून को पाठ्यक्रम में शामिल करेगा LU! मायावती ने जताया विरोध

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 24, 2020, 2:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर