• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • लखीमपुर हिंसा के बाद प्रियंका गांधी ने बदला काशी की रैली का नाम, PM मोदी के गढ़ से भरेंगी हुंकार

लखीमपुर हिंसा के बाद प्रियंका गांधी ने बदला काशी की रैली का नाम, PM मोदी के गढ़ से भरेंगी हुंकार

UP: जगतपुर कॉलेज का यह मैदान कांग्रेस के लिए हमेशा लकी माना जाता है.

UP: जगतपुर कॉलेज का यह मैदान कांग्रेस के लिए हमेशा लकी माना जाता है.

Priyanka Gandhi News: लखीमपुर खीरी घटना के बाद उत्तर प्रदेश चुनाव के लिहाज से यह पहली बड़ी रैली है. जिसको लेकर कांग्रेस पार्टी ने पूरी ताकत झोंक दी है. इस रैली में पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी शामिल होंगे.

  • Share this:

वाराणसी. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी अब वाराणसी में प्रतिज्ञा रैली नहीं करेंगी. लखीमपुर हिंसा के बाद कांग्रेस पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में होने वाली इस रैली को नया नाम दे दिया है. काशी में 10 अक्टूबर को अब प्रियंका गांधी किसान न्याय रैली में विशाल जनसभा को संबोधित करेंगी. वह पीएम मोदी के गढ़ से यूपी चुनाव-2022 का शंखनाद करेंगी. प्रियंका गांधी की रैली वाराणसी के रोहनिया इलाके के जगतपुर डिग्री कॉलेज में होगी. उससे पहले वह काशी विश्वनाथ मंदिर और दुर्गा कुंड में मत्था टेक कर आशीर्वाद भी लेंगी.

लखीमपुर खीरी में किसानों के प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा की घटना के बाद उत्तर प्रदेश चुनाव के लिहाज से यह पहली बड़ी रैली है. जिसको लेकर पूरी पार्टी ने ताकत झोंक दी है. बताया जा रहा है कि इस रैली में पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल होंगे. रैली की तैयारियों का जायजा लेने के लिए खुद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू, पूर्व सांसद डॉ राजेश मिश्रा समेत दिग्गज नेताओं ने काशी में डेरा डाल दिया है और तैयारियों का जायजा ले रहे हैं. इस रैली में पार्टी की युवा इकाई यूथ कांग्रेस भी अपनी पुरजोर भागीदारी की कोशिश में है.

UP: कांशीराम की पुण्यतिथि आज, शक्ति प्रदर्शन के साथ BSP प्रमुख मायावती आज करेंगी 2022 का चुनावी शंखनाद

प्रदेश अध्यक्ष कनिष्क पांडे समेत सभी बड़े युवा नेता काशी में पहुंचकर अधिक से अधिक संख्या में युवाओं को जोड़ने के लिए रैली निकाल रहे हैं. खास बात यह है कि जगतपुर कॉलेज का यह मैदान कांग्रेस के लिए हमेशा लकी माना जाता है. साल 2002 में 29 अक्टूबर को इसी परिसर में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद किया था. 2004 के चुनाव में कांग्रेस ने इसी मैदान से माहौल बनाया था और
2005 में कांग्रेस का प्रदेश स्तरीय प्रशिक्षण शिविर भी यहां लगाया गया था. सियासी गलियारों में पूर्वांचल का केंद्र माने जाने वाले बनारस में प्रियंका धार्मिक और सियासी दौरा दोनों एक साथ कर रही हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज