• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Varanasi News:नवरात्रि में प्रियंका गांधी करेंगी मां कूष्मांडा का दर्शन, पीएम मोदी भी टेक चुके है मत्था,जनिए क्या है मान्यता

Varanasi News:नवरात्रि में प्रियंका गांधी करेंगी मां कूष्मांडा का दर्शन, पीएम मोदी भी टेक चुके है मत्था,जनिए क्या है मान्यता

नवरात्रि

नवरात्रि के चौथे दिन प्रियंका गांधी करेंगी देवी कुष्मांडा के दर्शन

मंदिर के पुजारी धनंजय मिश्रा ने बताया कि देवी का ये मंदिर शक्ति पीठ है. जो भी भक्त यहां श्रद्धा भाव से आता है और देवी के चरणों मे शीश नवाता है मां कूष्मांडा उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी करती हैं. यहां दर्शन मात्र से ही शत्रुओं का नाश होता है. इसके अलावा भय और आरोग्य का वरदान भी देवी देती है. पीएम नरेंद्र मोदी भी यहां विशेष पूजन अर्चन कर चुके हैं.

  • Share this:

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) से कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) यूपी विधानसभा चुनाव का आगाज करेंगी. इसके लिए प्रियंका गांधी 10 अक्टूबर को काशी आ रही है. काशी में प्रियंका गांधी प्रतिज्ञा रैली कर विधानसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगी. नवरात्रि में इस रैली से पहले प्रियंका गांधी मां कुष्मांडा के मंदिर में जाएगी और वहां दर्शन पूजन के बाद इस चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगी. बताते चले कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मां दुर्गा के इस शक्ति पीठ पर मत्था टेक चुके हैं.

    मंदिर के पुजारी धनंजय मिश्रा ने बताया कि देवी का ये मंदिर शक्ति पीठ है. जो भी भक्त यहां श्रद्धा भाव से आता है और देवी के चरणों मे शीश नवाता है मां कूष्मांडा उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी करती हैं. यहां दर्शन मात्र से ही शत्रुओं का नाश होता है. इसके अलावा भय और आरोग्य का वरदान भी देवी देती है. पीएम नरेंद्र मोदी भी यहां विशेष पूजन अर्चन कर चुके हैं.

    नवरात्र के चौथे दिन है दर्शन का विधान
    नवरात्रि में नौ दिन देवी के अलग- अलग स्वरूपों के दर्शन होते हैं. इस क्रम में नवरात्रि के चौथे दिन देवी कुष्मांडा के दर्शन का विधान है. इसी खास दिन यूपी कांग्रेस की प्रभारी प्रियंका गांधी भी यहां आ रही है. प्रियंका यहां माता के चरणों में मत्था टेकने के बाद यूपी विधानसभा चुनाव में पार्टी के जीत के आशीर्वाद लेंगी.

    शुम्भ-निशुम्भ के वध के बाद देवी ने किया था विश्राम
    देवी के इस शक्ति में यूं तो हर दिन भीड़ होती है लेकिन नवरात्रि के नौ दिन यहां भक्तों का तांता लगा रहता है. मान्यता है कि दैत्य शुम्भ निशुम्भ के वध के बाद देवी ने यही विश्राम किया था. लिंग पुराण के अनुसार दक्षिण में मां दुर्गा काशी क्षेत्र की रक्षा करती हैं. भागवत पुराण के अनुसार सुबाहु नाम के राजा ने कठिन तप कर देवी से अपनी राजधानी वाराणसी में निवास करने का वरदान प्राप्त किया था. जिसके बाद से देवी यहां भक्तों के कल्याण के लिए विराजमान हो गई.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज