Home /News /uttar-pradesh /

Quami Ekta: मुस्लिम महिलाओं के हाथों से बने रामनामी दीये करेंगे अयोध्या को रोशन

Quami Ekta: मुस्लिम महिलाओं के हाथों से बने रामनामी दीये करेंगे अयोध्या को रोशन

बनारस में रामनामी दीये बनातीं मुस्लिम और हिंदू महिलाएं.

बनारस में रामनामी दीये बनातीं मुस्लिम और हिंदू महिलाएं.

Ganga-Jamuni Tehzeeb : दीये तैयार कर रही ये मुस्लिम महिलाएं रामभक्त हैं. ऐसा इसलिए कि ये रामराज्य की परिकल्पना करती हैं. ये महिलाएं हमेशा हिन्दू-मुस्लिम एकता के लिए सभी त्योहारों में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करती हैं. इस दीपावली इन्होंने गाय के गोबर से दीये बनाएं और उन दीयों को अलग रंगों से रंग कर खूबसूरत बना रही हैं. वैसे तो ये हर बार दीये बनाती हैं, लेकिन इस बार इनके दीये राम के नाम से बन रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

वाराणसी. इस दीपावली अयोध्या में लाखों दीयों के बीच गंगा-जमुनी तहजीब के शहर बनारस के 108 दीपों की रोशनी एकता का संदेश देंगी. इस एकता को अपने मेहनत के धागे में पिरो रही हैं काशी की कुछ मुस्लिम महिलाएं. जो राम के नाम से दीये बना रही हैं. खास बात ये है कि इन दीयों को मिट्टी से नहीं, बल्कि गाय के गोबर से तैयार किया गया है.

दीये तैयार कर रही ये मुस्लिम महिलाएं रामभक्त हैं. ऐसा इसलिए कि ये रामराज्य की परिकल्पना करती हैं. ये महिलाएं हमेशा हिन्दू-मुस्लिम एकता के लिए सभी त्योहारों में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करती हैं. इस दीपावली इन्होंने गाय के गोबर से दीये बनाएं और उन दीयों को अलग रंगों से रंग कर खूबसूरत बना रही हैं. वैसे तो ये हर बार दीये बनाती हैं, लेकिन इस बार इनके दीये राम के नाम से बन रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस नेताओं का Temple Run : प्रियंका गांधी ने पीतांबरा पीठ में माथा टेका, कमलनाथ पहुंचे केदारनाथ धाम

मुस्लिम महिला फाउंडेशन की सदर नाजनीन अंसारी ने बताया कि इस बार दीपावली को अयोध्या में लाखों दीये जलाए जा रहे हैं. उन लाखों दीये में हमारे भी 108 दीये शामिल होंगे. जिसे हम मुस्लिम और हिन्दू महिलाओं ने साथ मिलकर बनाया है. इन दीयों को हम अयोध्या भेजेंगे, जहां दीपावली के दिन ये जलाए जाएंगे.

इसे भी पढ़ें : अब मैं दूरबीन लेकर ढूंढ़ता हूं तो बाहुबली नजर नहीं आता- यूपी में बोले गृहमंत्री अम‍ित शाह

इन दीयों को बनाने के लिए बाकायदा उत्सव का माहौल बनाया जाता है. ढोलक बजते हैं, मिलकर गीत गाए जाते हैं. मुस्लिम महिलाएं अपने हाथ से बनाए गए दीये बनारस के कुछ परिचित हिन्दू घरों में भी वितरित करेंगी, ताकि इस दीपावली दुनिया के लोग बनारस की गंगा-जमुनी तहजीब के मजबूत डोर को जान सकें. बता दें कि बनारस अपने मजहबी एकता का संदेश पूरे देश को देता रहता है. मुस्लिम महिलाओं का ये तरीका उस संदेश को और मजबूती देगा.

Tags: Banaras news, Diwali 2021, Diwali Celebration

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर