होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /नवरात्रि में इस नृत्य से आप कर सकते हैं देवी मां को खुश! काशी के ज्योतिषाचार्य ने कही ये बात

नवरात्रि में इस नृत्य से आप कर सकते हैं देवी मां को खुश! काशी के ज्योतिषाचार्य ने कही ये बात

Shardiya Navratri 2022: नवरात्रि में पूजा-आराधना के साथ आप डांडिया और गरबा के जरिए भी देवी मां की कृपा प्राप्त कर सकते ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट-अभिषेक जायसवाल

वाराणसी. देवी उपासना के महापर्व शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri 2022) की शुरुआत हो गई है. नवरात्रि के इन नौ दिनों में देवी को पसन्न करने के लिए अलग-अलग तरह से उनकी पूजा की जाती है. पूजा आराधना के साथ ही आप खास नृत्य जैसे डांडिया और गरबा के जरिए भी देवी की कृपा प्राप्त कर सकते हैं. इसका धार्मिक विधान भी है. यही वजह है कि नवरात्र के नौ दिनों में देशभर में डांडिया (Dandiya) और गरबा का आयोजन किया जाता है.

वाराणसी के ज्योतिषाचार्य स्वामी कन्हैया महाराज ने बताया कि नवरात्रि के नौ दिनों में डांडिया और गरबा नृत्य करने का विशेष महत्व होता है. इन दोनों ही नृत्य का सीधा कनेक्शन मां दुर्गा से है. देवी को प्रसन्न करने के लिए देवी श्रद्धालु इस नृत्य को उनके सामने प्रस्तुत करते हैं और अपनी मनचाही मुरादें देवी के सामने रखते है. ऐसी मान्यता है कि नवरात्रि के नौ दिनों में इस नृत्य को करने से देवी मां प्रसन्न होकर भक्तों की सभी मुरादें पूरी करती हैं.

आपके शहर से (वाराणसी)

वाराणसी
वाराणसी

नृत्य से पहले जरूर करें ये काम
डांडिया नृत्य के शुरुआत से पहले भक्तों को देवी मां की प्रतिमा के समक्ष पूरे विधि विधान से पूजा करनी चाहिए. लाल चुनरी, लाल फूल, श्रृंगार का सामान, मिष्ठान अर्पण करने के बाद अखण्ड दीप जलाकर देवी का ध्यान करते हुए अपनी मनोकामना उनके सामने रखनी चाहिए. उसके बाद डांडिया नृत्य उनके सामने प्रस्तुत करना चाहिए.

जानिए क्या है महत्व
डांडिया नृत्य मां दुर्गा और महिषासुर के बीच युद्ध को दर्शाता हैं. डांडिया की रंगीन छड़ी को आदिशक्ति मां दुर्गा की तलवार के तौर पर देखा जाता है. ऐसी मान्यता है इस नृत्य से देवी भक्तों से सारे कष्टों को दूर कर देती हैं.

Tags: Navratri, Navratri festival, Varanasi news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें