वाराणसी में हनुमान की जाति प्रमाणपत्र के लिए आवेदन, योगी ने बताया था 'दलित'

राजस्थान में चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दिए गए बजरंगबली की जाति वाले बयान के बाद विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे पर हमलावर हैं. आवेदन में मां का नाम अंजनी और पता विश्व विख्यात संकट मोचन मंदिर बताया गया है. आवेदन में उनकी उम्र अमर और अनंत बताई गई है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 7, 2018, 6:29 PM IST
वाराणसी में हनुमान की जाति प्रमाणपत्र के लिए आवेदन, योगी ने बताया था 'दलित'
हनुमान जी को जाति प्रमाण पत्र जारी करने के लिए किया गया आवेदन
News18 Uttar Pradesh
Updated: December 7, 2018, 6:29 PM IST
भगवान हनुमान की तथाकथित जाति पर जारी सियासत थमने का नाम नहीं ले रही है. ताजा मामला वाराणसी का है, जहां शिवपाल यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की ओर से जिला प्रशासन को हनुमान का जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए आवेदन किया गया है.

दरअसल, राजस्थान चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दिए गए बजरंगबली की जाति वाले बयान के बाद विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे पर हमलावर हैं. इसी कड़ी में वाराणसी में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के बैनर तले दर्जनों लोगों ने जिला प्रशासन के पास जाति प्रमाण पत्र बनवाने का आवेदन किया है. ये आवेदन हनुमान जी के नाम से है.

आवेदन में मां का नाम अंजनी और पता विश्व विख्यात संकट मोचन मंदिर बताया गया है. आवेदन में हनुमान जी की उम्र अमर और अनंत बताई गई है. साथ ही व्यवसाय वाले कॉलम में उन्हें समाजसेवी बताया गया है. जाति प्रमाण पत्र जारी करने की वजह आरक्षण बताई गई है.

आवेदन रिसीव कराने के बाद सभी का कहना है कि बीजेपी जाति की राजनीति कर रही है. अब उसको जवाब उसके अंदाज में दिया जाएगा. गौरतलब है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने चुनाव प्रचार के दौरान बजरंगबली को दलित बताते हुए उन्हें वनवासी बताया गया था.

इस बयान के बाद से विपक्षी पार्टियों समेत कई दलित संगठन हमलावर हैं. राजधानी लखनऊ और मुजफ्फरनगर में तो दलित संगठनों ने हनुमान मंदिर पर कब्जा तक करने की कोशिश की. दलित संगठनों की मांग है कि बजरंग बलि दलित हैं तो उन पर पहला हक उनका है.

(रिपोर्ट: उपेंद्र द्विवेदी)

ये भी पढ़ें:
Loading...

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध के परिवार से मिले CM योगी, किए ये वादे

बुलंदशहर हिंसा के बाद गोकशी को लेकर ताबड़तोड़ छापे, शिक्षक भर्ती में CBI की FIR

महागठबंधन को लेकर कांग्रेस की बैठक में अखिलेश, माया के शामिल होने पर सस्पेंस

पूर्व सांसद उमाकांत यादव गए जेल, MP MLA कोर्ट ने 7 साल की सजा रखी बरकरार
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर