अपना शहर चुनें

States

सोनभद्र नरसंहार: हर साल बिहार से IAS का एक करीबी आता था 'लगान' वसूलने

सोनभद्र में बुधवार दोपहर जमीन के लिए खेली गई खून की होली
सोनभद्र में बुधवार दोपहर जमीन के लिए खेली गई खून की होली

कहा जा रहा है कि बिहार के पूर्व आईएएस प्रभात कुमार मिश्रा ने इस जमीन को आदर्श सोसाइटी के नाम लिया था. हालांकि इसका रजिस्ट्रेशन 1978 में ही ख़त्म हो गया था. इसके बाद 1989 में इस सोसाइटी की जमीन को आईएएस की पत्नी और उनकी बेटी के नाम कर दिया गया.

  • Share this:
सोनभद्र के घोरावल कोतवाली के मूर्तिया ग्राम पंचायत के उम्भा गांव में बुधवार दोपहर को हुए नरसंहार के बाद कई राज फाश हो रहे हैं. जहां इस मामले में प्रशसनिक चूक की बात सामने आ रही है तो मामले में बिहार काडर के एक पूर्व आईएएस का भी नाम है. पूरे नरसंहार को जिस 90 बीघे जमीन के लिए अंजाम दिया गया दरअसल वह एक सोसाइटी के नाम थी. जिस पर इलाके के आदिवासी दशकों से खेती कर गुजर बसर कर रहे थे.

कहा जा रहा है कि बिहार के पूर्व आईएएस प्रभात कुमार मिश्रा ने इस जमीन को आदर्श सोसाइटी के नाम लिया था. हालांकि इसका रजिस्ट्रेशन 1978 में ही ख़त्म हो गया था. इसके बाद 1989 में इस सोसाइटी की जमीन को आईएएस की पत्नी और उनकी बेटी के नाम कर दिया गया. इतना ही नहीं पटना से एक शख्स जिसका नाम धीरज है वह हर साल प्रति बीघे लगान भी वसूलने आता था.





गोंड विरादरी के संतोष, रामसकल, इन्द्रदेव, मान सिंह, जालिम और पन्नालाल ने बताया कि वे लोग इस जमीन पर कई पुश्तों से जोताई-बुआई कर रहे हैं. इन लोगों ने बताया कि पटना का कोई धीरज नाम का व्यक्ति ताल्लुकेदार बनकर प्रतिवर्ष बीघे के हिसाब से रुपए वसूलता था. उन्होंने बताया कि पिछले साल ग्राम प्रधान यज्ञदत्त सिंह भूरिया करीब 112 बीघे जमीन किसी तरीके से अपने और परिजनों के नाम रजिस्ट्री करा ली थी.
200 लोगों के साथ पहुंचा था ग्राम प्रधान

ग्रामीणों के मुताबिक बुधवार को ग्राम प्रधान के पक्ष के करीब 200 लोग जमीन जोतने के लिए पहुंचे. जिसके बाद सूचना मिलने पर गांव के लोग भी इकठ्ठा हुए और जमीन जोतने का विरोध किया. इसके बाद ग्राम प्रधान की तरफ से हमला बोल दिया गया. हथियारों से लैस लोगों ने सभी को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा और गोलियों की बौछार कर दी. इस नरसंहार में 10 लोगों की मौत हो गई जबकि दो दर्जन घायल है. अभी तक मामले में 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. एसएसपी सलमान ताज पाटिल के मुताबिक मामले में 27 लोगो के खिलाफ नामजद और 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है.

ये भी पढ़े:

साक्षी-अजितेश शादी की कहानी में आया नया मोड़, वायरल ऑडियो ने उठाए गंभीर सवाल

ऋचा पटेल को कुरान बांटने की सजा पर भड़कीं साध्वी प्राची, बोलीं- देश विरोधी गैंग सक्रिय
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज