लाइव टीवी

कांग्रेस, SP, BSP बताएं कि उनका SIMI और PFI से क्या रिश्ता है: योगी आदित्यनाथ
Lucknow News in Hindi

Upendra Dwivedi | News18 Uttar Pradesh
Updated: January 18, 2020, 11:46 PM IST
कांग्रेस, SP, BSP बताएं कि उनका SIMI और PFI से क्या रिश्ता है: योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ ने सीएए का विरोध करने पर विरोधी पर निशाना साधा. (फाइल फोटो)

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि, सिमी (SIMI) और पीएफआई (PFI) जैसे प्रतिबंधित समूहों और राष्ट्र विरोधी नारे लगाने वाले तत्वों के लिए विपक्षी दलों का समर्थन उनके असली चरित्र को प्रतिबिंबित करता है. वे नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के समर्थन में शनिवार को वाराणसी में जनसभा को संबोधित कर रहे थे. 

  • Share this:
वाराणसी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने पूछा है कि कांग्रेस (Congress), सपा (SP), बसपा (BSP) और अन्य विपक्षी दलों को यह बताने की जरूरत है कि सिमी (SIMI) यानी स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया के साथ उनका क्या संबंध है? सिमी और पीएफआई (PFI) जैसे प्रतिबंधित समूहों और राष्ट्र विरोधी नारे लगाने वाले तत्वों के लिए विपक्षी दलों का समर्थन उनके असली चरित्र को प्रतिबिंबित करता है. वे नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में शनिवार को वाराणसी में जनसभा को संबोधित कर रहे थे. इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि कांग्रेस ने देश का दुर्भाग्यपूर्ण विभाजन कराया और अब सीएए पर भ्रम फैलाया जा रहा है.

सीएए का विरोध देश के खिलाफ षड्यंत्र है
जनसभा में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस महात्मा गांधी की भी बात भूल गई है. विभाजन के वक्त महात्मा गांधी ने कहा था कि अगर हिंदू और सिख अल्पसंख्यकों को पाकिस्तान में इज्जत और आजादी नहीं मिली तो उन्हें भारत में वापस लाकर नागरिकता देना हिंदुस्तान का फर्ज है. उन्होंने कहा कि, ‘इस समय सीएए को लेकर जो विरोध हो रहा है वह केवल भारतीय जनता पार्टी का विरोध नहीं है. यह विरोध देश के खिलाफ षड्यंत्र है, इसलिए सभी को इस बारे में जागरूक करने की जरूरत है. लोगों को जागरूक करने के लिए ही हम आप लोगों के बीच आए हैं.’

 

लोगों को भड़का रहे हैं नरेंद्र मोदी से घबराए विपक्षी
योगी ने दोहराया कि संशोधित नागरिकता कानून लोगों को नागरिकता देने का कानून है लेने का नहीं. फिर भी नरेंद्र मोदी से घबराए विपक्षी लोगों को भड़का रहे हैं. भारत विरोधी नारा लगाने वालों के साथ खड़े होने से कांग्रेस, सपा और विपक्षियों का चरित्र भी सामने आ रहा है. इस कानून को तोड़ मरोड़कर पेश करने का प्रयास किया जा रहा है. इस कानून की आड़ में अराजक गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है. सरकार ने इन अराजकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है. इसी का नतीजा है कि लोग चेक लेकर खुद आ रहे हैं. योगी ने कहा कि देश का संविधान हमें फंडामेंटल राइट देता है तो हमें फंडामेंटल दायित्व भी देता है. दायित्व यही है कि अगर कहीं भी देश के साथ धोखा हो रहा हो तो हमें आगे आकर लोगों को जागरूक करना होगा.

 

यही नया भारत है
संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के मैदान पर आयोजित रैली में सीएम ने मोदी सरकार की योजनाओं का बखान करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री विभिन्न योजनाओं के जरिए किसानों, नौजवानों के हित में काम कर रहे हैं. उनके कार्यों से घबराकर विपक्षी सीएए के नाम पर लोगों को भड़का रहे हैं. 2008 में जब मुंबई पर आतंकी हमला हुआ था. देश के लोग चाहते थे कि पाकिस्तान पर हमला हो, लेकिन तब की सरकार ने कहा कि पाकिस्तान के पास परमाणु बम है. इस बार जब पाकिस्तान ने हमला किया तो भारत ने उनके घर में घुसकर मुंहतोड़ जवाब दिया. यही नया भारत है.

ये भी पढे़ं - 

सभी भारतीय हिंदू हैं, BJP को रिमोट कंट्रोल से नहीं चलाती RSS: मोहन भागवत

दिल्ली चुनाव: कांग्रेस ने इन 4 मुस्लिमों को दिया टिकट, जानिए- किस सीट से कौन?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 10:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर