चित्रकूट: एंबुलेंस नहीं मिली तो बाइक पर शव लेकर गया पिता

दरअसल सुरवल गांव के मजरा किशोर का पुरवा में रविवार को आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 8 साल के सुशील की मौत हो गई थी. उसके भाई शिवम और पिता राजकरन गंभीर रूप से झुलस गए थे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 23, 2019, 5:12 PM IST
चित्रकूट: एंबुलेंस नहीं मिली तो बाइक पर शव लेकर गया पिता
बाइक पर शव लेकर गया पिता.
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 23, 2019, 5:12 PM IST
उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में मंगलवार को आकाशीय बिजली से मरने वाले किशोर का पोस्टमार्टम तो कर दिया गया, पर शव घर ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं दी. गरीब परिवार इधर-उधर भटकता रहा परन्तु कोई मदद नहीं मिली. पैसे न होने से किराए के वाहन का इंतजाम नहीं हुआ तो मजबूरन अपने बेटे के शव को पिता बाइक पर गांव ले गया. मामला सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग का कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने से बचते नजर आ रहे हैं.

आकाशीय बिजली से हुई थी मौत

दरअसल सुरवल गांव के मजरा किशोर का पुरवा में रविवार को आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 8 साल के सुशील की मौत हो गई थी. उसके भाई शिवम और पिता राजकरन गंभीर रूप से झुलस गए थे, जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. सोमवार को राजापुर पुलिस सुशील के शव को पोस्टमार्टम के लिए मुख्यालय लाई थी. पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया.

बाइक पर शव लेकर जाते परिजन


नहीं मिला शव वाहन

परिजन अंतिम संस्कार के लिए सुशील का शव लेकर गांव जाना चाह रहे थे लेकिन शव वाहन नहीं मिला. उन्होंने काफी दौड़-भाग की, पर कहीं भी सुनवाई नहीं हुई. वहीं प्रशासन की तरफ से वाहन नहीं मिला तो मजबूरी में बाइक पर शव रखकर ले गए.

(रिपोर्ट: अखिलेश सोनकर) 
Loading...

 

ये भी पढ़ें:

शाहजहांपुर: क्लास में पढ़ा रहे टीचर के मुंह में तमंचे की नाल डालकर मारी गोली

मेरठ: SSP ऑफिस के पास दिनदहाड़े महिला की गोली मारकर हत्या

रेलवे में नौकरी करने वाला शादीशुदा राजेश कैसे बन गया 'सोनिया', जांच शुरू

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2019, 5:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...