Home /News /uttar-pradesh /

Corona News: BHU में धूप कल्पना विधि से कोरोना मरीजों का इलाज! शुरू हुआ क्लीनिक ट्रायल

Corona News: BHU में धूप कल्पना विधि से कोरोना मरीजों का इलाज! शुरू हुआ क्लीनिक ट्रायल

BHU

BHU में धूप कल्पना विधि से होगा कोरोना का इलाज

देश में कोरोना के नए वैरियंट ओमिक्रोन के बढ़ते मरीजों के बीच एक बार फिर आयुर्वेद को लेकर चर्चा शुरू हो गई है.देश में तीसरी लहर को लेकर वै

    देश में कोरोना (Corona) के नए वैरियंट ओमिक्रोन (Omicron) के बढ़ते मरीजों के बीच एक बार फिर आयुर्वेद को लेकर चर्चा शुरू हो गई है.देश में तीसरी लहर को लेकर वैज्ञानिक रिचर्स कर रहे है. इन सब के बीच बीएचयू (BHU) में धूप कल्पना विधि से कोरोना मरीजों का इलाज किया जा रहा है.बीएचयू के आयुर्वेद संकाय के प्रोफेसर के आर सी रेड्डी की अगुवाई में ये डॉक्टरों की टीम मरीजों का इलाज कर रही है.प्रोफेसर रेड्डी ने बताया किस विधि से 200 मरीजों का इलाज किया जाना है. शुरुआती दौर में 6 मरीजों का इलाज भी किया गया है.
    आईसीएमआर (ICMR) के अंतर्गत रजिस्टर्ड CTRI ने इसके ट्रायल की अनुमति दी है.जिसके बाद डॉ रेड्डी की टीम धूप कल्पना विधि से कोरोना मरीजों के इलाज में जुटी है.डॉ रेड्डी ने बताया कि ये हर्बल धूप कोरोना मरीजों की रोग प्रतिरोध क्षमता को बढ़ाता है.इसके अलावा कोरोना मरीजों को सुबह और शाम नाक और मुंह से इसका धुंआ लेने से लंग्स इंफेक्शन से भी रोकता है.जिस कमरे में कोरोना मरीज रहता है ये हर्बल धूप उस कमरे को वायरस फ्री कर देता है.

    ट्रायल में दी जाएगी तीन तरह की चीजें
    धूप कल्पना विधि से उपचार के दौरान मरीजों को इस हर्बल धूप के अलावा R-1 टेबलेट जिसको गिलोय और अन्य जड़ी बूटियों से तैयार किया गया है.इसके अलावा एक आयुर्वेदिक सीरप भी मरीजों को भोजन के पहले दिन में दो बार लेना होगा.डॉ रेड्डी ने ये दावा किया कि इससे कोरोना के मरीज न सिर्फ स्वस्थ होंगे बल्कि होम आइसोलेशन के दौरान उनके घर वाले भी सुरक्षित रहेंगे.हालांकि आयुर्वेदिक विधि से कोरोना इलाज का ये नया फॉर्मूला कितना सफल होगा ये तो रिचर्स पूरी होने के बाद ही साफ हो पाएगा.

    रिपोर्ट- अभिषेक जायसवाल-वाराणसी

    Tags: Varanasi news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर