Home /News /uttar-pradesh /

UP Assembly Election: नितिन अग्रवाल बोले- मेहनत कर रही हैं प्रियंका लेकिन चुनाव में ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा

UP Assembly Election: नितिन अग्रवाल बोले- मेहनत कर रही हैं प्रियंका लेकिन चुनाव में ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा

नितिन अग्रवाल ने प्रियंका गांधी से पूछा है कि जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार है, वहां उनकी प्रतिज्ञाएं क्यों पूरी नहीं की गईं? (Photo @priyankagandhivadra)

नितिन अग्रवाल ने प्रियंका गांधी से पूछा है कि जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार है, वहां उनकी प्रतिज्ञाएं क्यों पूरी नहीं की गईं? (Photo @priyankagandhivadra)

Uttar Pradesh News: यूपी विधानसभा उपाध्यक्ष नितिन अग्रवाल ने आगामी चुनावों को लेकर कहा कि प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) निश्चित रूप से मेहनत कर रही हैं, लेकिन कांग्रेस का संगठन जीरो है, उसमें दम नहीं है. अखिलेश यादव और ओम प्रकाश राजभर के साथ आने पर उन्होंने कहा कि, चाहे कोई किसी से साथ मिला ले, आमजन बीजेपी को फिर से सरकार बनाने का मौका दे रहा है. मध्य यूपी, पूर्वाचल और पश्चिमी यूपी में जनता भाजपा के पक्ष में है. सपा पर ज्यादा और बसपा पर कम हमलावर होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सपा, कांग्रेस, बसपा तीनों ही भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं. 

अधिक पढ़ें ...

वाराणसी. हाल ही में उत्तर प्रदेश विधानसभा के उपाध्यक्ष बनाए गए हरदोई के विधायक नितिन अग्रवाल (Nitin Agarwal) ने कहा कि इसमें कोई दोराय नहीं कि प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) मेहनत कर रही हैं, लेकिन कांग्रेस का संगठन जीरो है, कोई दम नहीं है. इसके कारण प्रियंका गांधी के सक्रिय होने से 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) में बहुत फर्क नहीं पड़ेगा. प्रियंका गांधी की चुनावी प्रतिज्ञा पर नितिन अग्रवाल ने पलटवार करते हुए कहा कि पहले प्रियंका गांधी यह बताएं कि 10 साल तक केंद्र में सरकार रहने पर उन्होंने 40 फीसदी महिलाओं को सीट देने का काम क्यों नहीं किया. यही नहीं, जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार है, वहां ये प्रतिज्ञाएं क्यों पूरी नहीं की गईं.

नितिन, यूपी के विधानसभा चुनाव के लिहाज से वैश्य वोटों को बीजेपी के पक्ष में गोलबंद करने के लिए आगामी 14 नवंबर को लखनऊ में एक सम्मेलन करने जा रहे हैं, जहां वैश्य और व्यापारी हितों को लेकर मंथन होगा और चुनाव के लिहाज से नीतिगत फैसले लेते हुए सरकार से कुछ मांग की जाएगी. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में व्यापारियों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आर्थिक पैकेज जारी कर बड़ी राहत दी है.

मऊ में अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर की पार्टी की रैली के बारे में विधानसभा के उपाध्यक्ष ने कहा कि क्षेत्रीय दलों की राजनीति यूपी की जनता देख चुकी है. सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव जो दावा करते हैं 400 सीटों का और खुद उन्हें अकेले चुनाव लड़ने की हिम्मत तक नहीं है तो कैसे इतनी सीटें जीतेंगे. ओपी राजभर डूबती नाव है, इसलिए 2022 में गंगा मैया इन्हें डुबो देंगी. सपा में परिवारवाद और भष्टाचार वाद हावी रहा है.

नितिन अग्रवाल ने कहा कि, यह किसी से भी गठबंधन कर लें, लेकिन यूपी में बीजेपी की सत्ता आएगी. चाहे कोई किसी से साथ मिला ले, आमजन बीजेपी को फिर से सरकार बनाने का मौका दे रहा है. मध्य यूपी, पूर्वाचल और पश्चिमी यूपी में जनता भाजपा के पक्ष में है. सपा पर ज्यादा और बसपा पर कम हमलावर होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सपा, कांग्रेस, बसपा तीनों ही भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं. भाजपा विकास की राजनीति करती है, इसलिए वो आरोप-प्रत्यारोप में नहीं पड़ती. नितिन अग्रवाल ने कहा कि वैश्य समाज जिसके साथ खड़ा हुआ, उसकी सरकार प्रदेश और केंद्र में बनी है.

Tags: Akhilesh yadav, BJP, Congress Pratigya Yatra, Omprakash Rajbhar, Priyanka gandhi, Uttar Pradesh Assembly Election 2022

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर