यूपी बीजेपी अध्यक्ष ने राजभर की पार्टी के विधायक को बताया 'चोर'

यूपी बीजेपी अध्यक्ष डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय का यह बयान अपने संसदीय क्षेत्र के अजगरा विधानसभा क्षेत्र में शिलान्यास पट्ट के अनावरण के दौरान आया.

  • Share this:
यूपी में बीजेपी और उसकी सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के बीच वाक युद्ध जारी है. ताजा घटनाक्रम में यूपी बीजेपी अध्यक्ष डॉ महेंद्रनाथ पांडेय ने सहयोगी एसबीएसपी के विधायक को ही चोर बता डाला.



मंगलवार को वाराणसी पहुंचे महेंद्रनाथ पांडेय का यह बयान डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा की मौजूदगी में दिया. उन्होंने अजगरा से एसबीएसपी के विधायक कैलाश सोनकर को चोर बता दिया. पांडेय का यह बयान इन दिनों सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है.



पांडेय का यह बयान अपने संसदीय क्षेत्र के अजगरा विधानसभा क्षेत्र में शिलान्यास पट्ट के अनावरण के दौरान आया. डिप्टी सीएम डॉ. शर्मा के शिलापट्ट का अनवारण के बाद जैसे ही पत्रकारों ने सवाल किया कि इसमें स्थानीय विधायक का नाम नहीं है. इसके जवाब में पांडेय ने कहा, " मैंने स्थानीय विधायक (कैलाश सोनकर) का नाम इसलिए नहीं लिखवाया क्योंकि वह चोर निकल गया." पांडेय के इस बयान के कुछ ही मिनटों बाद यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.





यह भी पढ़ें: शिवपाल से मुलाकात के बाद बदले राजभर के सुर, योगी की तारीफ में पढ़े कसीदे
एक ओर जहां पांडेय ने स्थानीय विधायक पर निशाना साधा, वहीं बुनकरों के एक समूह ने जिला मुख्यालय पर विधायक सोनकर के खिलाफ प्रदर्शन किया. उनका आरोप था कि 4500 बुनकरों को सब्सिडी लोन दिलाने में सोनकर ने 600 करोड़ रुपए का घोटाला किया. इसके बाद पांडेय ने कहा कि कथित घोटाले में उच्चस्तरीय जांच कराई जाएगी. उन्होंने कहा, " योगी सरकार में किसी भी भ्रष्टाचारी को छोड़ा नहीं जाएगा. चाहे वह विधायक हो या फिर आम आदमी."



Video: योगी के मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने बीजेपी MLA के लिए बोले अपशब्द



इस बीच, सोनकर ने कहा, " ये बड़े लोग हैं. उन्हें मेरे जैसे दलित के खिलाफ कुछ भी बोलने की आजादी है. मैं इन लोगों के निशाने पर राज्यसभा चुनाव के वक्त से ही हूं, जब मेरे ऊपर आरोप लगा था कि मैंने क्रॉस वोटिंग की. आगामी लोकसभा चुनाव में लोग यह साफ कर देंगे कि कौन चोर है और कौन ईमानदार?"



सोनकर ने दावा किया कि जो लोग भी मेरे खिलाफ घोटाले का आरोप लगा रहे हैं उन्हें उनके रिश्तेदारों द्वारा ही एक जमीन विवाद के सिलसिले में भड़काया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज