वाराणसी: नाइट कर्फ्यू का पालन कराने के लिए सिंघम बने दारोगा का ही कटा चालान, जानें वजह

नाइट कर्फ्यू का पालन कराने के लिए सिंघम बने दरोगा का खुद कटा चालान

नाइट कर्फ्यू का पालन कराने के लिए सिंघम बने दरोगा का खुद कटा चालान

Varanasi News: जिलाधिकारी के आदेश के पहले दिन तुलसी घाट पर दारोगा गौरव उपाध्याय बिना मास्क लगाए गश्त कर रहे थे. सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद दारोगा पर लगाया गया जुर्माना.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 12:37 PM IST
  • Share this:
वाराणसी. कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर वाराणसी में भी नाइट कर्फ्यू लगाया गया है. लेकिन वाराणसी में अस्सी पुलिस चौकी पर तैनात दारोगा ही बगैर मास्क घूम रहे थे. वे दूसरों को लाठी मार कर डीएम के निर्देशों का पालन करने को कह रहे थे. बगैर मास्क और डंडा मारने की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी तो कमिश्नरेट पुलिस ने ट्वीट कर स्पष्ट किया कि दारोगा गौरव उपाध्याय से भेलूपुर इंस्पेक्टर ने सार्वजनिक स्थान पर मास्क न लगाने के आरोप में जुर्माना वसूला है.

दरअसल, कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने आदेश दिया है कि रोजाना शाम चार बजे से अगले दिन की सुबह छह बजे तक आमजन गंगा घाटों की ओर नहीं जाएंगे. जिलाधिकारी के आदेश के पहले दिन तुलसी घाट पर दरोगा गौरव उपाध्याय बिना मास्क लगाए गश्त कर रहे थे.

इसी दौरान रीवा घाट के पास जो लोग टहलते मिले उन्हें समझाबुझा कर घर जाने को कहने की बजाए दरोगा ने प्लास्टिक के पाइप से पिटाई कर दी. दरोगा को विभागीय नियमानुसार अपनी पिस्टल होल्स्टर (लेदर केस) में रखनी चाहिए थी, लेकिन बॉलीवुड फिल्मों की तरह सिंघम बनने के चक्कर में वे सरकारी नियम भी भूल गए. मामला सामने आने के बाद दरोगा गौरव उपाध्याय से भेलूपुर इंस्पेक्टर ने सार्वजनिक स्थान पर मास्क न लगाने के आरोप में जुर्माना वसूला है.

कार्यक्रमों और आयोजनों पर भी पाबंदी
इसके अलावा पारिवारिक सामाजिक आयोजनों और पारंपरिक धार्मिक आयोजनों को छोड़ कर 5 व्यक्तियों से अधिक लोगों को किसी भी राजनैतिक, सामाजिक और अन्य कार्यक्रमों की अनुमति नहीं दी जाएगी. घाटों पर आरतियां बहुत ही कम स्‍तर पर की जाएंगी और इनमें जनसामान्य को हिस्‍सा नहीं लेने दिया जाएगा दूध, सब्जी मंडी, दवा की दुकानों के लिए रियायत रहेगी. यात्रियों, रात्रि शिफ्ट के कर्मचारियों और मालवाहक गाड़ियों के लिए भी रियायत रहेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज