वाराणसीः अपात्र घोषित होंगे 170 बुनकर, नहीं मिलेगा विद्युत सब्सिडी का लाभ

हैंडलूम विभाग के सहायक आयुक्त की मानें तो वाराणसी में 25 हजार पावरलूम में से 170 ऐसे मिले हैं, जहां पावरलूम नहीं है और कई पावरलूमों पर फ्लैट रेट में दुरूपयोग करने के सुबूत मिले हैं

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 28, 2018, 8:40 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 28, 2018, 8:40 PM IST
वाराणसी जिले के 170 बुनकरों को अपात्र घोषित करने की सूचना जसे हड़कंप गया है. बिजली सब्सिडी के तहत लाभ लेने वाले बुनकरों में से कई बुनकरों पर धांधली करने का आरोप लगा है. बताया जाता है नई योजना में धांधली करने के आरोपी बुनकरों की पात्रता और पावरलूम को चलाने के लिए मिलने वाली विद्युत सब्सिडी पर भी रोक लग जाएगी.

यह भी पढ़ें-वाराणसी के बुनकरों पर कपड़ा मंत्रालय हुआ मेहरबान,पढ़ें क्या मिलेगी सौगात

गौरतलब है वर्ष 2006 के शासनादेश के अनुसार पावरलूम को फ्लैट रेट पर विद्युत सब्सिडी उपलब्ध करवाई गई थी, लेकिन फ्लैट रेट पर मिलने वाली विद्युत सब्सिडी के दुरूपयोग की सूचना के बाद सरकार ने एक सर्वे कराया गया. गत 30 जून को उजागर हुए सर्वे रिपोर्ट में कुल 170 लाभार्थियों को फ्लैट रेट का दुरूपयोग करते पकड़ा गया.

यह भी पढ़ें-PM मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में 'कालीन मेले' का आयोजन कर बुनकरों को रिझाएगी BJP

हैंडलूम विभाग के सहायक आयुक्त की मानें तो वाराणसी में 25 हजार पावरलूम में से 170 ऐसे मिले हैं, जहां पावरलूम नहीं है और कई पावरलूमों पर फ्लैट रेट में दुरूपयोग करने के सुबूत मिले हैं, लिहाजा जल्द ही ऐसे बुनकरों की विद्युत सब्सिडी रोककर उनके बुनकर कार्ड को भी निरस्त किया जाएगा.

(रिपोर्ट-नीतीश कुमार पांडेय, वाराणसी)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर