BHU: कोविड वार्ड के चौथी मंजिल से कोरोना पॉजिटिव युवक ने कूदकर दी जान, डॉक्टरों पर लगा ये आरोप
Varanasi News in Hindi

BHU: कोविड वार्ड के चौथी मंजिल से कोरोना पॉजिटिव युवक ने कूदकर दी जान, डॉक्टरों पर लगा ये आरोप
बीएचयू अस्पताल के चौथी मंजिल से कूदकर युवक ने दी जान

BHU: परिजनों का कहना है कि अस्पताल में लापरवाही अपने चरम पर है. इस बारे में अंकित ने खुद कॉल कर के बताया था. भर्ती के दौरान हमने डॉक्टरों से बात भी की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई.

  • Share this:
वाराणसी. बीएचयू (BHU) के सर सुंदरलाल अस्पताल (Sir Sundarlal Hospital) स्थित कोविड वार्ड (COVID Ward) से लापरवाही का मम्मला सामने आया है. अस्पताल के चौथी मंजिल के कोविड वार्ड से कोरोना मरीज (Corona Patient) ने कूद कर जान (Suicide) दे दी, घटना रविवार देर रात की है कब मरीज बीएचयू के सुपर स्पेशलिटी सेंटर के चौथी मंजिल से कूद गया. मामला सामने आने पर स्वास्थ्य विभाग और जिलाप्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है.

आत्महत्या करने वाले युवक का नाम अंकित पाठक है, जिसकी उम्र महज 21 वर्ष थी. अंकित वाराणसी के बाबतपुर क्षेत्र के कैमोली गांव का रहने वाला था. अंकित को एक हफ्ते पहले मस्तिष्क में दर्द शुरू हुआ जिसके बाद बीएचयू में उसका इलाज करने के लिए लाया गया. जहां उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर उसे कोविड-19 वार्ड में भर्ती कर दिया गया.

परिजनों ने डॉक्टर पर लगाए लापरवाही के आरोप



मृत युवक के रिश्तेदार किशन मिश्रा ने बताया कि उन्हें आधी रात के बाद कॉल कर के बताया गया कि उनका लड़का चौथे मंजिल से कूद कर जान दे दिया है. परिजनों का कहना है कि अस्पताल में लापरवाही अपने चरम पर है. इस बारे में अंकित ने खुद कॉल कर के बताया था. भर्ती के दौरान हमने डॉक्टरों से बात भी की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई, जिसके कारण तनाव की वजह से अंकित ने ये कदम उठाया. परिजनों ने आरोप लगाया कि अस्पताल के चिकित्सकों के लापरवाही के कारण उनके पुत्र की जान गई. परिजनों ने चिकित्सकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की बात भी कही है.
उधर बीएचयू सुपर स्पेशलिटी सेंटर के चीफ प्रॉक्टर ओपी राय ने बताया कि युवक के चौथी मंजिल से कूदते ही जैसे ही इसकी सूचना मिली डॉक्टरों ने तुरंत इमरजेंसी में लेकर उसका इलाज किया, लेकिन युवक को गम्भीर चोटें आई थी, जिसके कारण उसकी मौत हो गयी.

पहले भी मिल चुकी है लापरवाही की ख़बरें

गौरतलब है कि बीएचयू से लगातार लापरवाही की खबरें सामने आ रही है. इससे पहले भी शवों की अदला-बदली सेे बीएचयू काफी चर्चा में रहा था. इसी के साथ कई ऐसे वीडियो सामने भी आये जब बीएचयू में लापरवाही देखी गयी. ऐसे में संक्रमित युवक द्वारा किया गया आत्महत्या एक बार फिर बीएचयू के चिकित्सकों के कार्यशैली पर कई सवाल खड़े कर रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज