लाइव टीवी
Elec-widget

नियुक्ति पर विवाद के बाद पहली बार BHU ने जारी किया फिरोज खान का बयान

News18Hindi
Updated: November 29, 2019, 7:14 PM IST
नियुक्ति पर विवाद के बाद पहली बार BHU ने जारी किया फिरोज खान का बयान
BHU ने जारी किया फिरोज खान का बयान (फाइल फोटो)

डॉ फिरोज खान (Dr Feroz Khan) ने कहा, 'मीडिया (Media) की कुछ खबरों में उनके बारे में गुमशुदगी, शहर छोड़ा, अंडरग्राउंड जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है. मैं इन खबरों से बहुत आहत हूं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2019, 7:14 PM IST
  • Share this:
वाराणसी. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (Banaras Hindu University) के संस्कृत धर्म संकाय में असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर नियुक्त डॉ फिरोज खान (Dr Feroz Khan) का शुक्रवार को बीएचयू की ओर से बयान जारी किया गया है. जिसमें उन्होंने उनकी नियुक्ति के संबंध में मीडिया पर अनावश्यक कयासबाजी का आरोप लगाया है.

फिरोज खान ने कहा, 'वे आए दिन समाचार पत्रों में ऐसी खबर पढ़ रहे हैं, जिनमें उनके बारे में कई ऐसी बातें छापी जा रही हैं, जो सही नहीं है. वे कहां रह रहे हैं, किससे मिल रहे हैं या किसके संरक्षण में है इसके बारे में मीडिया की कुछ खबरों के जरिए निरतंर अनावश्क कयासबाजी की जा रही है.'

‘मीडिया की खबरों से आहत’
उन्होंने कहा कि मीडिया की कुछ खबरों में उनके बारे में गुमशुदगी, शहर छोड़ा, अंडरग्राउंड जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है. वे इन खबरों से आहत हैं. डॉ फिरोज खान ने स्पष्ट किया है कि न तो उन्हें कहीं जाने की आवश्यकता है और न ही उनके पास शहर छोड़ने का कोई कारण है. उन्होंने कहा कि उनके विभिन्न आवेदनों को लेकर भी तमाम तरह की निराधार खबरें प्रकाशित की जा जा रही हैं. उनके बार में इस तरह की भ्रामक व तथ्यों से परे मीडिया में अटलकलबाजियों का वातावरण तैयार नहीं किया जाना चाहिए.

बीएचयू ने जारी किया प्रोफेसर फिरोज खान का बयान


फिरोज ने यूनिवर्सिटी के कई विभागों में किया आवेदन
इससे पहले बीएचयू के जनसूचना अधिकारी डॉ. राजेश सिंह ने बताया कि प्रोफेसर फिरोज खान ने यूनिवर्सिटी के कई विभागों में आवेदन किया हुआ है. डॉ. राजेश सिंह ने बताया कि फिरोज खान ने आयुर्वेद विभाग में पहले से ही आवेदन कर रखा था.
Loading...

BHU ने निकाला था विज्ञापन
बीएचयू की वेबसाइट के मुताबिक, मई 2019 विज्ञापन निकाला गया था. इसमें आवेदन की अंतिम तारीख 26 जून थी. इस वैकेंसी में संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय के साहित्य विभाग के अलावा आईएमएस के आयुर्वेद संकाय के संहिता और संस्कृत विभाग में असिस्‍टेंट प्रोफेसर, कला संकाय के संस्कृत विभाग, शिक्षा संकाय के शिक्षा विभाग, म्यूजिकोलॉजी विभाग और राजीव गांधी साउथ कैंपस बरकछा (मिर्जापुर) में संस्कृत से संबंधित असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर आवेदन निकला था.

ये भी पढ़ें-

विरोध के बाद आज पहली बार BHU में नजर आएंगे संस्कृत प्रोफेसर फिरोज खान, इस विभाग में देंगे इंटरव्यू

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वाराणसी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 7:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com