अपना शहर चुनें

States

बड़ी लापरवाही! वाराणसी में अनफिट वैन से सेंटर पहुंचाई गई Corona Vaccine की खेप

जिन वाहनों से वाराणसी के बाबतपुर एयरपोर्ट से वैक्सीन की खेप वैक्सीन सेंटर पर पहुंचाई गई, उनमें एक वाहन ऐसा था जिसकी फिटनेस मई 2006 में ही समाप्त हो गई है
जिन वाहनों से वाराणसी के बाबतपुर एयरपोर्ट से वैक्सीन की खेप वैक्सीन सेंटर पर पहुंचाई गई, उनमें एक वाहन ऐसा था जिसकी फिटनेस मई 2006 में ही समाप्त हो गई है

बुधवार को विस्तारा एयरलाइंस (Vistara Airlines) की फ्लाइट से वाराणसी पहुंची वैक्सीन (Corona Virus Vaccine) को लेकर यहां बड़ी लापरवाही दिखी. दरअसल जिस वैन से वैक्सीन पहुंचाई गई उसकी फिटनेस खत्म हो चुकी है. आरटीओ (RTO) की वेबसाइट से मिली जानकारी के मुताबिक वैन की फिटनेस वर्ष 2006 में ही खत्म हो गई है

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2021, 9:11 PM IST
  • Share this:
वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी (Varanasi) में कोरोना वायरस की वैक्सीन (Corona Virus Vaccine) पहुंच गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र में बुधवार दोपहर वैक्सीन की यह खेप (Vaccine In Varanasi) पहुंची है. विस्तारा एयरलाइंस (Vistara Airlines) की फ्लाइट से वैक्सीन के 16 बॉक्स पहुंचे. इनमें 14 जिलों के लिए एक लाख 85 हजार डोज लाई गई हैं. यहां से इसे वैक्सीन सेंटर तक पहुंचाया जा रहा है. लेकिन वैक्सीन को लेकर यहां बड़ी लापरवाही दिखी. दरअसल जिस वैन से वैक्सीन पहुंचाई गई उसकी फिटनेस खत्म हो चुकी है. आरटीओ (RTO) की वेबसाइट से मिली जानकारी के मुताबिक वैन की फिटनेस वर्ष 2006 में ही खत्म हो गई है.

UP65AG0021 नंबर वाली यह वैन साढ़े सोलह साल से भी ज्यादा पुरानी है. इसकी फिटनेस 12 मई, 2006 तक वैलिड थी. इस हिसाब से वैन की फिटनेस खत्म हुए लगभग पंद्रह साल होने को है.





इसे इसलिए लापरवाही माना जा रहा है क्योंकि रास्ते में यदि गाड़ी खराब हो जाती तो देरी होने से वैक्सीन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता था. वैक्सीन के लिए तापमान नियंत्रण बड़ी चुनौती है. इसलिए इसे जल्द से जल्द वैक्सीन सेंटर पर पहुंचाया जाना आवश्यक होता है. इससे पहले, ड्राई रन में भी वैक्सीन के ट्रांसपोर्टेशन को लेकर लापरवाही दिखी थी.
आरटीओ की वेबसाइट से वैन के बारे में मिली जानकारी


बता दें कि सोलह जनवरी से पूरे देश में वैक्सीन देने का काम शुरू होगा. वाराणसी पहुंची वैक्सीन की खेप का उपयोग चार मंडलों वाराणसी, प्रयागराज, विंध्याचल और आजमगढ़ के 14 जिलों में होगा. 16 जनवरी को वाराणसी, मिर्जापुर, जौनपुर, चंदौली, मऊ, आजमगढ़, बलिया, गाजीपुर, भदोही, सोनभद्र, प्रयागराज, कौशांबी और प्रतापगढ़ के स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण शुरू होगा. वाराणसी में कुल आठ केंद्रों पर वैक्सीन देने की तैयारी है. हर केंद्र पर सौ लोगों को टीका लगाया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज