होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Varanasi Crime News: साड़ी कारोबारी की हत्या, अपहरण के लिए महिला ने की थी 3 महीने तक रेकी

Varanasi Crime News: साड़ी कारोबारी की हत्या, अपहरण के लिए महिला ने की थी 3 महीने तक रेकी

पुलिस के गिरफ्त में तीनों आरोपी

पुलिस के गिरफ्त में तीनों आरोपी

Three Accused Arrested: अपर पुलिस आयुक्त संतोष सिंह के मुताबिक, इस साजिश में शामिल 3 मुलजिम गिरफ्तार कर लिए गए हैं. पुल ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : रवि पांडेय

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी में साड़ी कारोबारी महमूद आलम के अपहरण का मामला हत्या में बदल गया है. अपहर्ताओं ने महमूद आलम की रिहाई के एवज में 30 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी. इस साजिश को एक महिला ने अपने पति और तीन अन्य आरोपियों के साथ मिलकर अंजाम दिया था. आरोपियों ने तीन महीने तक रेकी की थी. ये जानकारियां पुलिस ने दीं.

अपर पुलिस आयुक्त संतोष सिंह के मुताबिक, इस साजिश में शामिल 3 मुलजिम गिरफ्तार कर लिए गए हैं. पुलिस पूछताछ में उन्होंने स्वीकार किया है कि महमूद आलम की हत्या कर दी गई है और लाश को गंगा में फेंक दिया गया है. उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि यह हत्या भेद खुल जाने के डर से की गई.

आपके शहर से (वाराणसी)

वाराणसी
वाराणसी

ऐसे रची साजिश

पुलिस के मुताबिक, इस केस की आरोपी महिला ने बीमा करने के बहाने महमूद आलम से नजदीकियां बढ़ाई थीं. करीब तीन महीने तक बातचीत के बाद शनिवार को बीमा की प्रकिया पूरी करने के लिए बुलाया था और बीएचयू परिसर के पास से उनका अपहरण कर लिया था. महिला ने छोड़ने के एवज में 10 लाख रुपए मांगे थे. साड़ी कारोबारी महमूद आलम अपने अकाउंट में मौजूद 2 लाख रुपए देने के लिए राजी था. शेष 8 लाख रुपए के लिए महमूद को अपने बेटे को फोन करने के लिए मजबूर किया गया था. इसके बाद परिजनों ने पुलिस को शिकायत कर दी, जिसके बाद आरोपियों ने डरकर महमूद की हत्या कर शव को गंगा नदी में फेंक दिया था.

महिला का पति भी हत्या में शामिल

आरोपी महिला और उसके पति ने तीन अन्य लोगों के साथ मिलकर अपहरण कर फिरौती मांगने की साजिश रची थी. मामला फंसता देखकर उन्होंने महमूद की हत्या कर दी और बाद उसके खाते से दो लाख रुपए भी निकाल लिए थे. पुलिस सीसीटीवी फुटेज, मोबाइल लोकेशन और कॉल डिटेल्स खंगालने के बाद आरोपियों तक पहुंची. हालांकि, अब तक पुलिस महमूद का पता नहीं चला है.

शनिवार शाम से थे लापता

महमूद आलम गौरीगंज इलाके में रहते थे. वह शनिवार शाम को किसी से मिलने के लिए घर से निकले थे. घर से निकलने के बाद किसी अनजान नंबर से उन्होंने बेटे के नंबर पर एक कॉल किया था और खुद के मुसीबत में होने का जिक्र करते हुए 8 लाख रुपए का इंतजाम करने के लिए कहा था. इसके बाद फोन कट हो गया था. इसके बाद परिजनों ने पुलिस को शिकायत की थी.

Tags: Crime News, Murder after missing, Varanasi news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें