अनलॉक की तरफ बढ़ी काशी, जानिए कैसे खा सकते हैं बनारसी पान, कब होंगे बाबा विश्वनाथ के दर्शन
Varanasi News in Hindi

अनलॉक की तरफ बढ़ी काशी, जानिए कैसे खा सकते हैं बनारसी पान, कब होंगे बाबा विश्वनाथ के दर्शन
भोपाल पुलिस ने अनलॉक में लोगों की प्रॉपर्टी की सुरक्षा की कवायद शुरू की है.

सड़क पर पब्लिक ट्रांसपोर्ट यानी ऑटो और ई-रिक्शा का संचालन 4 जून से जोनवार होगा. इसके लिए पहले यातायात विभाग से एप पर रजिस्ट्रेशन कर अनुमति लेनी होगी.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
वाराणसी. पीएम नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) में लॉकडाउन-5 (Lockdown 5.0) के लिए जारी गाइडलाइंस के मुताबिक सड़क से लेकर बाजार तक रौनक लौट आई है. सड़कों पर ट्रैफिक बदस्तूर पहले जैसा हो गया तो वहीं बाजार भी अब रात आठ बजे तक लेफ्ट राइट के पुराने फार्मूले पर खुल गए हैं. अब बनारस रविवार नहीं शनिवार को बंद रहेगा. आप बनारसी पान का जायका भी ले सकते हैं, लेकिन खुले में नहीं घर पर. हालांकि बाबा विश्वनाथ के दर्शन के लिए आपको जिला प्रशासन के अगले आदेश का इन्तजार करना पड़ेगा.

इस दिन से चलेंगे ऑटो और ई-रिक्शा

सड़क पर पब्लिक ट्रांसपोर्ट यानी ऑटो और ई-रिक्शा का संचालन 4 जून से जोनवार होगा. इसके लिए पहले यातायात विभाग से एप पर रजिस्ट्रेशन कर अनुमति लेनी होगी. फिलहाल नियमों के कन्फयूजन के बीच में सोमवार से ही ई-रिक्शा और टैक्सी चलने लगी. उधर दुकानों को खोलने के समय में दो घंटे की बढ़ोत्तरी की गई है. अब दुकानें सुबह 8 बजे से शाम 7 बजे तक खुलेंगी. यही नहीं, साप्ताहिक बंदी भी रविवार की बजाय शनिवार कर दी गई है. शनिवार को केवल दूध और सब्जी ही घूमकर बेचने की इजाजत होगी.



हॉटस्पॉट में सख्ती रहेगी बरक़रार



हॉटस्पाट इलाके में सख्ती पहले की तरह बरकरार रहेगी. कंटेनमेंट जोन में फुल लॉकडाउन रहेगा. वहीं शहर के पार्कों को भी सुबह और शाम पांच से सात बजे तक खोल दिया गया है. पंजीकृत खिलाड़ियों को सिर्फ प्रवेश की अनुमति के साथ स्टेडियम भी खोल दिए गए हैं. मंदिरों को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया गया है. स्कूल-कॉलेज भी केवल दस कर्मचारी के साथ खुलने की इजाजत मिल गई है. तीन शिफ्टों में बांटकर सरकारी कार्यालय भी खुल गए हैं. पहली शिफ्ट सुबह नौ से पांच, दूसरी 10 से 6 और तीसरी 11 से 7 बजे तक रहेगी.

ऐसे ले सकेंगे बनारसी मिठाई का आनंद

विश्वप्रसिद्ध मिठाई का जायका अब पैक कराकर आप घर पर ले सकेंगे. हालांकि बनारसी जामुन अभी नहीं मिल पाएगी. फिलहाल गंगा में नाव संचालन अभी प्रतिबंधित है. आजीविका और अन्य आवश्यक गतिविधियों के लिए नौका चलाने की छूट रहेगी. फैक्ट्रियां पूर्व निर्धारित नियमों के मुताबिक खुलेंगी. अंत में बात बनारस की जान यानी बनारसी पान की. फिलहाल दुकान पर खड़े होकर मुंह पर पान घुलाना मना है. पान पैक कराइए और घर पर जाकर ही घुलाइए. यानी अब आप मगही पान का मजा ले सकते हैं, लेकिन घर पर.

ये भी पढ़ें -

COVID-19: दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग का निर्देश, 2 घंटे में शवगृह भेजे जाएं शव

दिल्ली सरकार के पास नहीं सैलरी देने का पैसा, केंद्र से मांगे 5000 करोड़
First published: June 1, 2020, 1:05 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading