अपना शहर चुनें

States

काशी से स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को जोड़ेगी ये ट्रेन, PM नरेंद्र मोदी दिखाएंगे हरी झंडी

पीएम नरेंद्र मोदी काशी-केवड़िया एक्सप्रेस को दिखाएंगे हरी झंडी
पीएम नरेंद्र मोदी काशी-केवड़िया एक्सप्रेस को दिखाएंगे हरी झंडी

Varanasi to Statue of Unity Train: गुजरात में स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के नाम से पूरी दुनिया में विख्यात सरदार वल्लभभाई पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा के पास केवड़िया नाम से नया टर्मिनस स्टेशन बनाया गया है. इस स्टेशन के लिए काशी से ये पहली ट्रेन होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 17, 2021, 10:39 AM IST
  • Share this:
वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के कर्मक्षेत्र वाराणसी (Varanasi) से उनके गृह राज्य गुजरात (Gujarat) के केवड़िया को जोड़ने के लिए नई ट्रेन (New Train) चलेगी. वर्चुअल कार्यक्रम के जरिए खुद पीएम मोदी 17  जनवरी को इसका शुभारंभ करेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार की सुबह 10.30 बजे कैंट स्टेशन से वर्चुअली हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. वाराणसी से केवड़िया तक चलने वाली यह साप्ताहिक ट्रेन शुभारंभ वाले दिन ही यात्रियों से फुल होकर जाएगी. चेयर कार, स्लीपर और वातानुकूलित कोच में सीटें फुल हो गई हैं.

बता दें कि केवड़िया वो जगह है, जहां स्टेच्यू ऑफ यूनिटी है. ये ट्रेन कई मायनों में खास है. गुजरात में स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के नाम से पूरी दुनिया में विख्यात सरदार वल्लभभाई पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा के पास केवड़िया नाम से नया टर्मिनस स्टेशन बनाया गया है. जिसको काशी-केवड़िया एक्सप्रेस ट्रेन जोड़ेगी. इस स्टेशन के लिए काशी से ये पहली ट्रेन होगी.

कई मायनों में ख़ास है ये ट्रेन
फिलहाल कपूरथला स्थित कोच फैक्ट्री से इस ट्रेन के एलएचबी कोच वाराणसी पहुंच गई है और आज अपनी पहली यात्रा शुरू करेगी. यूं तो कई मायनों में करीब बीस बोगियों की ये ट्रेन खास है. बाहरी आउटलुक अन्य ट्रेनों से अलग है. विंडो की डिजाइन इसे खूबसूरत लुक दे रही है. यही नहीं, ट्रेन के अंदर भी सीट चौड़ी और आरामदायक बनाई गई हैं. इसके अलावा वॉश रूम को भी कुछ ज्यादा सुविधाजनक बनाया गया है.
चार राज्यों से गुजरेगी ट्रेन


प्लेटफार्म नंबर 1 से नव निर्मित भवन के पास से ट्रेन को रवाना किया जाएगा. इसके लिए प्लेटफार्म पर ही स्क्रीन डिस्प्ले बनाया गया है. इसकी टेस्टिंग भी शनिवार को रेल अधिकारियों ने की. वहीं सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आरपीएफ व जीआरपी को विशेष तौर पर निर्देशित किया गया है. फिलहाल अभी ट्रेन का शेड्यूल, समय सारणी और किराया तय नहीं हो पाया है. हालांकि बताया जा रहा है कि ट्रेन चार राज्यों को जोड़ेगी, जिसमें उत्तर प्रदेश के अलावा मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात शामिल होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज