वाराणसी हादसा: राजबब्बर बोले- पुल के लिए तोड़े थे 3 मंदिर, ये भगवान का कहर है!

सीएम योगी ने 48 घंटे में रिपोर्ट तलब की है और मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये और घायलों को दो-दो लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 16, 2018, 3:56 PM IST
वाराणसी हादसा: राजबब्बर बोले- पुल के लिए तोड़े थे 3 मंदिर, ये भगवान का कहर है!
वाराणसी पहुंचे राजबब्बर ने घायलों से की मुलाक़ात
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 16, 2018, 3:56 PM IST
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर बुधवार को वाराणसी पहुंचे. राज बब्बर ने यहां फ्लाई ओवर हादसे में घायल लोगों से मुलाकात की और उनका हालचाल जाना. इसके बाद मीडिया से बातचीत में राज बब्बर ने कहा कि उन्हें बताया गया है कि पुल को चुनाव से पहले तैयार करने के लिए तीन विनायक मंदिरों को तोड़ा गया था. इसलिए लोगों का यह मानना है कि हादसा भगवान विनायक के श्राप की वजह से ही हुआ है.

मीडिया से बातचीत के दौरान राज बब्बर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बनारस के सांसद होने के नाते पीएम मोदी को यहां आना चाहिए था. लेकिन वे कर्नाटक चुनाव में व्यस्त हैं. राज बब्बर ने राज्य सरकार से मृतकों के परिजनों को 50-50 लाख रुपये और घायलों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने की भी मांग की.

गौरतलब है कि मंगलवार शाम साढ़े पांच बजे के करीब निर्माणाधीन चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर का एक हिस्सा कैंट रेलवे स्टेशन के सामने गिर गया. इस हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई. जबकि 30 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. मामले में यूपी सेतु निगम के चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर समेत चार अधिकारी निलंबित कर दिए गए हैं.

वहीं सेतु निगम और निर्माणदायी संस्था के खिलाफ सिगरा थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. मामले में आईपीसी की दफा 304, 308, 427 और ¾ में मुकदमा दर्ज किया गया है. मुकदमें में गैर इरादतन हत्या, हत्या के प्रयास, लोक संपत्ति और संपत्ति की क्षति की धाराएं भी लगाई गईं हैं.
Loading...
मामले में सीएम योगी ने 48 घंटे में रिपोर्ट तलब की है और मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये और घायलों को दो-दो लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है.

ये भी पढ़ें- गाजियाबादः मेट्रो पुल निर्माण कार्य के दौरान हो सकता है बड़ा हादसा

वाराणसी हादसा: बेबस कुनकुन की आंखों के सामने पति और उसके बेटे ने तोड़ा दम!
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर