Home /News /uttar-pradesh /

मंत्री अनिल राजभर बोले- मुख्तार अंसारी का राजनीतिक शूटर है ओम प्रकाश, सूट करके भेज दूंगा घर

मंत्री अनिल राजभर बोले- मुख्तार अंसारी का राजनीतिक शूटर है ओम प्रकाश, सूट करके भेज दूंगा घर

Chandauli: अनिल राजभर ने कहा कि इसका जवाब तो 2022 में उनको जनता और किसान देंगे.

Chandauli: अनिल राजभर ने कहा कि इसका जवाब तो 2022 में उनको जनता और किसान देंगे.

Chandauli News: अखिलेश यादव के कृषि कानून की वापसी को अहंकार की हार बताया, किसानों और लोकतंत्र की जीत बताने के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए अनिल राजभर ने कहा कि इसका जवाब तो 2022 में उनको जनता और किसान देंगे. पिछले विधानसभा चुनाव में उन्हें 47 सीट मिली थी. लेकिन इस बार समाजवादी पार्टी 7 पर सिमट जाएगी. गौरतलब है कि इस दौरान उन्होंने स्थनीय विकास को लेकर भी अपना विजन बताया. उन्होंने कहा कि यहां के विकास को लेकर हम लोंगों की संकल्पना रही है. कोविड-19 महामारी ने इस पर बुरा प्रभाव न डाला होता तो अब तक मूर्तरूप ले चुकी होती.

अधिक पढ़ें ...

चंदौली. योगी सरकार (Yogi Government) में कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर (Anil Rajbhar) देव दीपावली के अवसर पर बलुआ गंगा घाट पहुंचे. जहां पूरी श्रद्धा के साथ दर्शन पूजन किया. साथ ही यहां की पर्यटन विकास को लेकर अपना संकल्पना दोहराई. वहीं पत्रकारों से बातचीत के दौरान चिर प्रतिद्वंदी ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) हमलावर रहे और 2022 में उन्हें शूट कर घर भेजने की बात कही. वहीं ओमप्रकाश राजभर ने आगामी चुनाव में हार के डर से कृषि कानून लिए जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ये लोग माफिया मुख्तार अंसारी के राजनीतिक शूटर बन गए हैं. हमारे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐसे राजनीतिक शूटरों को शूट करने की जिम्मेदारी हमको दे रखी है. 2022 में इन लोगों को हम शूट करके घर भेज देंगे. ऐसे लोगों के खिलाफ क्या प्रतिक्रिया दिया जाय. जिनका न कोई आगे है और न कोई पीछे, न कोई जवाब, न कोई सिद्धांत है.

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा कृषि कानून वापस लिए जाने के फैसले के पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हम उनके फैसले का स्वागत करना चाहते है. प्रधानमंत्री मोदी का बड़ा हृदय हैं, और समाज सेवा का जो उनका संकल्प और तरीका है. उसे समझने की जरूरत है. हमलोगों ने उनके नेतृत्व में लगातार दो वर्ष तक किसान को समझाने का प्रयास किया, की यह कृषि कानून उनके हित में है.लेकिन हम उन्हें ये समझा नहीं सके. जब वे नहीं माने तो उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए सरकार ने कृषि कानून वापस लेने का फैसला किया. क्योंकि यह जनता का ही है.

कानपुर में आज से होगा AIMPLB का दो दिवसीय अधिवेशन, इन अहम बिंदुओं पर होगी चर्चा

अखिलेश यादव के कृषि कानून की वापसी को अहंकार की हार बताया, किसानों और लोकतंत्र की जीत बताने के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए अनिल राजभर ने कहा कि इसका जवाब तो 2022 में उनको जनता और किसान देंगे. पिछले विधानसभा चुनाव में उन्हें 47 सीट मिली थी. लेकिन इस बार समाजवादी पार्टी 7 पर सिमट जाएगी. गौरतलब है कि इस दौरान उन्होंने स्थनीय विकास को लेकर भी अपना विजन बताया. उन्होंने कहा कि यहां के विकास को लेकर हम लोंगों की संकल्पना रही है. कोविड-19 महामारी ने इस पर बुरा प्रभाव न डाला होता तो अब तक मूर्तरूप ले चुकी होती.

Tags: Anil Rajbhar, Chandauli News, Om Prakash Rajbhar, UP Election 2022, UP news, UP politics, Yogi government

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर