बुंदेलखंड में पानी को लेकर मचा हाहाकार, सरकार नहीं कर पा रही इतंजाम

बुंदेलखंड में पानी को लेकर इन दिनों हाहाकार मचा हुआ है. जबकि पानी लेने और देने वाले दोनों ही विभाग एक-दूसरे पर अप्रत्यक्ष रूप से पानी चोरी करने का आरोप लगा रहे हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 19, 2019, 11:29 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 19, 2019, 11:29 AM IST
यूपी के बुंदेलखंड में गर्मी आने के साथ ही पानी के लिए जद्दोजहद शुरू हो जाती है और प्रशासन के लिए पानी की व्यवस्था करना सबसे बड़ी चुनौती बन जाता है. पानी की कमी का आलम ये है कि यहां गांव के इलाकों में पानी की व्यवस्था के लिए ग्रामीणों को कई-कई किलोमीटर पैदल सफर तय करना पड़ता है. जबकि इस बार भी यहां के हालात कुछ अलग नहीं हैं. बुंदेलखंड में पानी को लेकर इन दिनों हाहाकार मचा हुआ है. वहीं, आसमान से बरसती आग के बाद पानी की किल्‍लत ने यहां के लोगों की परेशानी बढ़ा दी है.

पूरे दिन लगे रहते हैं पानी की जुगाड़ में
पानी की किल्लत का आलम ये है कि यहां के लोगों को सुबह, दोपहर, शाम या फिर रात बस पानी की चिंता सताती रहती है. सच कहा जाए तो हर किसी को गले को तर करने वाले पानी की उम्‍मीद लगी रहती है. जबकि झांसी में शहर से लेकर गांव तक हर तरफ एक ही शोर सुनाई पड़ रहा है कि पानी की व्यवस्था कैसे भी करा दीजिये. पानी के जुगाड़ में मीलों दूर पैदल चलना झांसी में बिल्कुल आम बात हो गयी है.

बूंद-बूंद पानी के लिए हो जाता है संग्राम

बुंदेलखंड में नलों में पानी आ नहींं रहा है और अधिकांश हैंडपंप रिपेयर होने के इंतजार में हैं. जबकि कुएं सूख गए हैं. हालांकि नदियां, बांध, तालाब पानी से भरे तो हैं, लेकिन आम जनमानस की पहुंच से दूरे हैं. यही वजह है कि यहां बूंद-बूंद पानी के लिए संग्राम तक छिड़ जाता है.

सरकार नहीं कर पा रही पानी का इतंजाम
इस क्षेत्र में पानी से ज्यादा इन दिनों कुछ भी कीमती नही होता है. प्रशासनिक स्तर से पानी के इंतजाम उंट के मुह में जीरा साबित हो रहे है. टैंकर पानी लेकर कब आते है और कब पानी के टैंकरों से पानी खत्म हो जाता है, यह पता ही नहीं चलता. हालांकि ग्रामीण क्षेत्रो में पानी की समस्या को दूर करने के लिए अफसर खूब मीटिंग कर रहे है, लेकिन इसका जमीन पर असर दिखाई नहीं दे रहा है. जबकि पानी लेने और देने वाले दोनों ही विभाग एक-दूसरे पर अप्रत्यक्ष रूप से पानी चोरी करने का आरोप लगा रहे हैं.
ये भी पढ़ें- शिवसेना ने दी चेतावनी, ऐसा किया तो अवैध लेडीज इनवेयर की दुकानों का लाइसेंस हो सकता है कैंसल

ये भी पढ़ें- दिल्ली में 'बढ़ती मस्जिदों' पर BJP सांसद ने उठाए सवाल, LG से की फौरन कार्रवाई की मांग

खबरें चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...