दहेज के लिए महिला को जिन्‍दा जलाने की कोशिश, पुलिस के सुस्‍त रवैये ने बिगाड़ा मामला!

गंभीर रुप से घायल महिला से लगातार दो लाख रुपये की डिमाण्ड की जाने लगी और जब महिला ने अपने घर वालो से पैसा मागने से इंकार कर दिया तो उस पर जुल्म ढाया गया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 2, 2019, 12:33 PM IST
दहेज के लिए महिला को जिन्‍दा जलाने की कोशिश, पुलिस के सुस्‍त रवैये ने बिगाड़ा मामला!
देवरिया में दहेज के लिए महिला को जिन्‍दा जलाने की कोशिश का मामला सामने आया है.
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 2, 2019, 12:33 PM IST
हमारा समाज आज भले ही प्रगति के पथ पर बढ़ने के साथ अच्छी शिक्षा ग्रहण कर रहा हो, लेकिन आज भी हमारे समाज में ऐसे लोग मौजूद हैं कि समाज को कलंकित करते रहते हैं. देवरिया जिले में एक ऐसा ही मामला समाना आया है, जहां पर दहेज के लिए एक महिला को जिन्दा जला कर मार डालने की कोशिश की गयी. इतना ही महिला को बन्द कमरे में कई दिनों तक भूखा भी रखा गया और उसके कई नाजुक अंगों पर गर्म प्रेस से जुल्म की दास्तान लिखी गयी.

जीने-मरने की कसम खाने वाला बना हैवान
देवरिया में दहेज लोभियों की घिनौनी करतूत की हर तरफ चर्चा हो रही है. जबकि इस घटना के गवाह महिला के बच्‍चे बने हैं. महिला के कई अंगों को गरम प्रेस से जलाया गया. गम्भीर अवस्था में महिला जिला अस्पताल में भर्ती यह महिला अब जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है.

आपको बता दें कि नुदरत खातुन का निकाह सलेमपुर कोतवाली थाना क्षेत्र के मझौलीराज कस्बे के रहने वाले जावेद खां से 8 साल पहले हुआ था, लेकिन कभी जीने-मरने की कसम खाने वाला अपने परिजनों के साथ हैवान बन गया है.

दो लाख की डिमाण्‍ड पूरी ना होने पर दी सजा
गंभीर रुप से घायल महिला से लगातार दो लाख रुपये की डिमाण्ड की जाने लगी और जब महिला ने अपने घर वालो से पैसा मागने से इंकार कर दिया तो उस पर जुल्म ढाया गया. महिला को कई दिनों तक कमरे में बन्द कर भूखा रखा गया और उसकी बेल्ट, बैट से जमकर पिटाई की गयी. इतना ही नहीं महिला को गर्म प्रेस से कई अंगो को जलाया, जिसके निशान आज भी महिला के शरीर पर दिखाई दे रहे हैं. मामले को शान्त करने के लिए जब महिला की मां गयी तो उसे भी जमकर पीटा गया. महिला के बच्‍चों की जब इस करतूत को खुलासा किया तो हर कोई हैरान रह गया.

सलेमपुर पुलिस की दिखी लापरवाही
Loading...

अब जरा देवरिया जिले की सलेमपुर पुलिस का खेल देखिए. जिस दिन महिला के साथ घटना घटी उस रात उसने पुलिस को सूचना दी और पुलिस ने उसी के घर पर रहने को मजबूर कर दिया गया. अगले दिन सलेमपुर पुलिस पीड़ि‍त महिला के पति को थाने में पकड़ कर लाई और शान्ति भंग की मामूली धारा में चलान कर दिया. इधर जब सूचना जिले के बड़े अफसरों को मिली तो मामले की गम्भीरता को देखते हुए महिला के पति, देवर और सास पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया.

बहरहाल, पीड़ित का जिला अस्पताल में इलाज किया जा रहा है, जहां उसकी देखरेख के लिए उसके मायके कर रहे हैं. इधर सलेमपुर पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, लेकिन सभी फरार हैं.
(रिपोर्ट-उमा शंकर भट)

ये भी पढ़ें-

महाराष्ट्र में आफत की बारिश, सरकार ने किया स्‍कूल और ऑफिस बंद करने का ऐलान
First published: July 2, 2019, 12:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...