Home /News /uttar-pradesh /

women accused gayatri prajapati of raping her minor daughter arrested by gomtinagar police know reason

यूपी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला गिरफ्तार, जानें वजह

समाजवादी पार्टी की पूर्ववर्ती सरकार में गायत्री प्रसाद प्रजापति खनन मंत्री रह चुके हैं.

समाजवादी पार्टी की पूर्ववर्ती सरकार में गायत्री प्रसाद प्रजापति खनन मंत्री रह चुके हैं.

समाजवादी पार्टी की पूर्ववर्ती सरकार में गायत्री प्रसाद प्रजापति खनन मंत्री रह चुके हैं. चित्रकूट की इस महिला ने गायत्री और छह अन्य लोगों पर उनकी नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप का आरोप लगाया था. महिला का आरोप था कि वह मंत्री गायत्री प्रजापति से मिलने उनके आवास पर पहुंची थी, जिसके बाद मंत्री और उनके साथियों ने उसको नशा देकर नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप किया.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला को गोमतीनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. कोर्ट में गवाही के लिए न आने पर चित्रकूट की इस महिला के खिलाफ वारंट जारी हुआ था, जिस पर अमल करते हुए पुलिस ने यह कार्रवाई की. गोमतीनगर पुलिस अब महिला को एमपी-एमएलए कोर्ट (MP-MLA Court) में पेश करेगी.

बता दें कि समाजवादी पार्टी की पूर्ववर्ती सरकार में गायत्री प्रसाद प्रजापति खनन मंत्री रह चुके हैं. चित्रकूट की इस महिला ने गायत्री और छह अन्य लोगों पर उनकी नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप का आरोप लगाया था. महिला का आरोप था कि वह मंत्री गायत्री प्रजापति से मिलने उनके आवास पर पहुंची थी, जिसके बाद मंत्री और उनके साथियों ने उसको नशा देकर नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप किया.

ये भी पढ़ें- गायत्री प्रजापति के परिवार की बढ़ी मुश्किलें, खरीद-फरोख्त के आरोप में बेटे सहित 3 पर मुकदमा दर्ज

इस मामले में पीड़ित परिवार को प्रजापति के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा था. वहीं सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद गायत्री प्रजापति और अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था.

ये भी पढ़ें- जानें कौन हैं शिल्‍पा प्रजापति? जिन पर सपा ने सुल्‍तानपुर से खेला है दांव

इस मामले में गायत्री प्रजापति समेत तीन आरोपियों को उम्र कैद की सजा सुनाई गई. वहीं दो-दो लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है. गायत्री प्रसाद प्रजापति, अशोक तिवारी और आशीष शुक्ला को गैंगरेप और पॉक्सो ऐक्ट की धाराओं में दोषी करार दिया था.

गायत्री प्रजापति की ओर से इस सज़ा के खिलाफ अपील की गई, जिस पर लखनऊ स्थित एमपी-एमएलए कोर्ट में सुनवाई चल रही है. कोर्ट ने इसी मामले में पीड़िता की मां को गवाही के लिए तलब किया था, लेकिन बार-बार के समन के बावजूद वह पेश नहीं हुई थी.

Tags: Gayatri Prajapati, Rape Case, Samajwadi party, UP news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर