होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Exclusive: जेवर Airport का निर्माण कार्य शुरू, 26 अगस्‍त को आएगा ज़्यूरिख़ कंपनी का डेलिगेशन

Exclusive: जेवर Airport का निर्माण कार्य शुरू, 26 अगस्‍त को आएगा ज़्यूरिख़ कंपनी का डेलिगेशन

ज्यूरिख कंपनी का डेलीगेशन कल एयरपोर्ट के साइट ऑफिस का उद्घाटन करने आ रहा है.

ज्यूरिख कंपनी का डेलीगेशन कल एयरपोर्ट के साइट ऑफिस का उद्घाटन करने आ रहा है.

Big News: जेवर के किशोरपुरा गांव में साइट ऑफिस बनाया गया है. ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि साल 2024 में पहली फ्लाइट जेवर ...अधिक पढ़ें

    हिमांशु शुक्ला

    नोएडा. लंबे इंतजार के बाद जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar International Airport) का निर्माण कार्य शुरू हो गया है. जेवर के नगला शरीफ और नगला छित्तर गांव में भूमि पूजन के साथ ही निर्माण कार्य शुरू हो गया है. निर्माण कार्य में सबसे पहले जमीन को समतल करने का काम प्रारंभ किया गया है. इसके साथ ही साइट ऑफिस भी बनाए जा रहे हैं. सुरक्षा के लिहाज से यमुना अथॉरिटी (Yamuna Authority) ने उत्तर प्रदेश पूर्व सैनिक कल्याण बोर्ड के सिक्योरिटी गार्ड (Security guard) भी तैनात किए हैं. ये गार्ड 24 घंटे ड्यूटी पर तैनात रहेंगे. बता दें कि किशोरपुरा गांव में साइट ऑफिस बनाया गया है. ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि साल 2024 में पहली फ्लाइट जेवर एयरपोर्ट से उड़ान भरेगी.

    यमुना अथॉरिटी से जुड़े अफसरों की मानें तो 26 अगस्त को विश्कर्मा पूजा के दिन ज्‍यूरिख कंपनी का डेलिगेशन जेवर के गांव नगला छित्तर पहुंचेगा. कंपनी के अधिकारी यहां पहुंचकर निर्माण कार्य का जायजा लेंगे. इसके अलावा साइट ऑफिस का भी उद्घाटन करेंगे. शुरुआती दौर में सबसे पहले जमीन के समतलीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है.

    आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

    दिल्ली-एनसीआर
    दिल्ली-एनसीआर

    यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ अरुण वीर सिंह ने न्यूज़ 18 से बातचीत के दौरान बताया कि 36 महीनों में प्रोजेक्ट कंप्लीट कर लिया जाएगा और साल 2024 में पहली उड़ान भरी जाएगी. हालांकि, उन्होंने उम्मीद जताई कि यह कार्य 30 से 32 महीनों में ही पूरा कर लिया जाएगा. फिलहाल अब सबकी निगाहें शिलान्यास पर टिकी हुई हैं. उम्मीद जताई जा रही है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जल्द ही शिलान्यास करेंगे.

    सिक्स लेन ROB से जुड़ेंगे परी चौक और जीटी रोड, दिल्ली-हावड़ा फ्रेट कॉरिडोर पर बन रहे हैं आरओबी

    जेवर एयरपोर्ट को बेहतर कनेक्टिविटी देने के लिए रोड, एयरपोर्ट, मेट्रो ट्रेन, एक्सप्रेस वे का प्रस्ताव, बुलेट ट्रेन (एक स्टेशन जेवर रहेगा), पॉड टैक्सी के विकल्प पर भी काम किया जा रहा है. जेवर एयरपोर्ट की 80 मिलियन पैसेंजर की कैपेसिटी होगी.

    साल 2024 में भरेगी पहली उड़ान
    जेवर में बन रहे इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निर्माण कार्य का काम शुरू हो गया है. 1334 हेक्टेयर में जेवर इंटरनेशनल ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बसाया जाएगा. तकरीबन 36 महीनों में पहले स्टेज का पूरा कार्य कर लिया जाएगा. वहीं साल 2024 में जेवर एयरपोर्ट पहली उड़ान भरने को तैयार हो जाएगा. जेवर के गांव नगला शरीफ और नगला छित्तर में मशीनरी भी पहुंच गई है.

    काम में तेजी लाने के लिए अधिकारी भी निगरानी कर रहे हैं. 1334 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण का पहले चरण का काम पूरा कर लिया गया है. इसके अलावा चार स्टेज में जेवर इंटरनेशनल ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट का काम किया जाएगा. साइट की सुरक्षा के लिए शुरुआती दौर में तकरीबन 25 गार्ड्स की तैनाती की गई है. दो शिफ्ट में गार्ड सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा संभाले हुए हैं.

    Tags: Jewar airport, Noida news, Yamuna Authority

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें