Home /News /uttarakhand /

कोटा से ऋषिकेश लाए गए 200 छात्र, 14 दिन आइसोलेशन में रहने की सलाह

कोटा से ऋषिकेश लाए गए 200 छात्र, 14 दिन आइसोलेशन में रहने की सलाह

छात्रों को उनके माता-पिता और अभिभावकों को सौंपा गया और उन्हें 14 दिन तक घरों पर पृथक रखने की सलाह दी गई. (File Photo)

छात्रों को उनके माता-पिता और अभिभावकों को सौंपा गया और उन्हें 14 दिन तक घरों पर पृथक रखने की सलाह दी गई. (File Photo)

कोटा में फंसे छात्रों को वहां से लेकर यूपी परिवहन निगम की सात बसें सोमवार शाम साढ़े चार बजे ऋषिकेश पहुंचना शुरू हो गयीं.

    ऋषिकेश. राजस्थान के कोटा (Kota) में विभिन्न कोचिंग संस्थानों में पढ़ने वाले उत्तराखंड (Uttrakhand) के 200 छात्रों को सोमवार को वापस लाकर उनके घरों को भेज दिया गया. सभी छात्रों को सोमवार को कोटा से लाया गया और मेडिकल टीमों द्वारा उनकी थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ठीक तरह से संक्रमणमुक्त की गई बसों में उनके घर भेज दिया गया. छात्रों को उनके माता-पिता और अभिभावकों को सौंपा गया और उन्हें 14 दिन तक घरों पर पृथक (Isolated) रखने की सलाह दी गई. वहीं मेडिकल टीमें भी नियमित अंतराल पर उनकी जांच करती रहेगी.

    हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक कोटा में फंसे छात्रों को वहां से लेकर यूपी परिवहन निगम की सात बसें सोमवार शाम साढ़े चार बजे ऋषिकेश पहुंचना शुरू हो गयीं. ये सभी छात्र कोटा में रहकर इंजीनियरिंग और मेडिकल की कोचिंग कर रहे थे. ऋषिकेश पहुंचते ही प्रशासन ने सभी छात्रों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए सभी को कतार में खड़ा किया जिसके बाद उन सभी के नाम और पते दर्ज कर उनके गन्तव्य पर भेज दिया गया.

    मैदान के 4 में से 3 जिले बने मुसीबत
    उत्तराखंड में सरकार के लिए पहाड़ तो मुसीबत नहीं बने. लेकिन मैदानी जिलों ने जरूर मुश्किल खड़ी की. उत्तराखंड के 44 में से 42 कोरोना केस मैदानी जिलों में सामने आए. जिनमें 4 मामले ऊधमसिंहनगर में, 22 देहरादून जिले में, 7 हरिद्वार जिले में और 9 नैनीताल जिले में सामने आए. यानि प्रदेश के कुल 44 केस में से 38 केस 3 जिलों देहरादून, हरिद्वार और नैनीताल में सामने आए. इसी कारण देहरादून, हरिद्वार और नैनीताल को स्वास्थ्य विभाग ने रेड कैटेगरी में रखा है. जबकि पौड़ी औऱ अल्मोडा के साथ ऊधमसिंहनगर ऑरेज कैटेगरी में हैं.

    सैंपल में भी टॉप पर मैदानी जिले
    उत्तराखंड में फिलहाल दो सरकारी लैब में कोरोना के सैंपल टेस्ट हो रहे हैं. लॉकडाउन शुरू होने से अबतक करीब 3300 सैंपल टेस्ट के लिए भेजे जा चुके हैं. जिनमें 1124 देहरादून से, 896 हरिद्वार से, 520 नैनीताल से भेजे गये.जबकि 368 ऊधमसिंहनगर से भेजे जा चुके हैं. वहीं खासतौर पर सबसे ज्यादा सैंपल और सबसे ज्यादा मरीजों वाले 3 जिलों में स्वास्थ्य विभाग अब रैपिड टेस्टिंग की भी तैयारी कर रहा है. ताकि ये पता लग सके कि कहीं रेड कैटेगरी वाले जिलों में किसी कम्युनिटी ट्रांसफर का खतरा तो नहीं.

    Tags: Corona, Kota news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर