पिथौरागढ़-अल्मोड़ा में लगातार 3 दिन में जलीं 3 शहीदों की चिताएं... युवाओं में देश के लिए लड़ने का जज़्बा हुआ और मजबूत
Almora News in Hindi

पिथौरागढ़-अल्मोड़ा में लगातार 3 दिन में जलीं 3 शहीदों की चिताएं... युवाओं में देश के लिए लड़ने का जज़्बा हुआ और मजबूत
तीनों जवानों की शहादत के कारण यहां के लोगों ने वो दर्दनाक और भावुक नज़ारा भी देखा जिसकी कल्पना किसी ने सपने में भी नहीं की थी.

पिथौरागढ़ और बागेश्वर के 2 जवान बारामुला में गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
पिथौरागढ़/अल्मोड़ा. जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तानी सेना और आतंकियों की कायराना हरकत से पिथौरागढ़ और अल्मोड़ा में लगातार तीन दिन 3 शहीदों की चिताएं जली हैं. आतंकियों से मुकाबला करते हुए इन दो ज़िलों के 3 जवान शहीद हो गए हैं तो 2 घायल हुए हैं. पिथौरागढ़ के गोकर्ण सिंह और शंकर सिंह की शहादत जहां पाकिस्तानी सेना द्वारा सीज फायर का उल्लंघन के चलते हुई थी. वहीं अल्मोड़ा के दिनेश सिंह हंदवाड़ा में आतंकियों से हुई मुठभेड़ में शहीद हुए.

भावुक नज़ारा 

तीनों जवानों की शहादत के कारण यहां के लोगों ने वो दर्दनाक और भावुक नज़ारा भी देखा जिसकी कल्पना किसी ने सपने में भी नहीं की थी. रविवार को 21 कुमाऊं रेजिमेंट में तैनात शहीद शंकर सिंह मेहरा को  पूरे सैन्य सम्मान के साथ रामेश्वर घाट में विदाई दी गई. इस दौरान भारी संख्या में स्थानीय लोगों के साथ सैन्य  और प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे.



शहीद शंकर की चिता की आग ठंडी भी नही हुई थी कि, सोमवार की सुबह शहीद गोकर्ण सिंह को नाचनी के रामगंगा तट पर अंतिम विदाई दी गई.



इन दोनों बहादुर सैनिकों के पार्थिव शरीर घर भी ढंग से नहीं पहुंचे थे कि अल्मोड़ा की भनोली तहसील के जवान दिनेश सिंह की शहादत की दुखद सूचना ने लोगों को और ग़मगीन कर डाला. यह पहला मौका है, जब यहां के लोगों को 3 दिन में 3 जवानों की चिताएं सजानी पड़ीं. यही नहीं पिथौरागढ़ और बागेश्वर के 2 जवान बारामुला में गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं.

युवाओं का हौसला 

एक के बाद एक जवानों की चिताएं देखने के बाद भी यहां के युवा भले ही दुखी हों. लेकिन उनके हौसले अब भी बुलंद हैं. शहीद शंकर सिंह के गांव नाली के अमर सिंह का कहना है कि वह किसी भी कीमत पर भारतीय सेना में शामिल होंगे और देश की सुरक्षा के साथ शंकर की शहादत का भी बदला लेंगे.

शहीद दिनेश सिंह के अंतिम संस्कार में पहुंचे उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि उत्तराखंड के लोगों ने देश के लिए हमेशा कुर्बानी दी है और तीनों जवानों ने अपनी ज़िंदगी कुर्बान कर शहादत की विरासत को आगे बढ़ाया है. इन तीनों शहीदों पर उत्तराखंड ही नही बल्कि देश को भी नाज़ है.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading