उत्तराखंड में कोरोना का कहर, 24 घंटे में मिले 5,493 नए मरीज, 107 की मौत

उत्तराखंड में जारी है कोरोना की रफ्तार, 5,493 नए मरीज, 107 की मौत (प्रतीकात्मक फोटो)

उत्तराखंड में जारी है कोरोना की रफ्तार, 5,493 नए मरीज, 107 की मौत (प्रतीकात्मक फोटो)

लगातार कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं. उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में COVID19 के  5,493 नए मामले सामने आए हैं. यहां 107 लोगों की कोरोना से मौत भी हुई है.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड ( Uttarakhand ) में कोरोना संक्रमण ( corona infection ) कम होने का नाम नहीं ले रहा. लगातार कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं. उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में COVID19 के  5,493 नए मामले सामने आए हैं. यहां 107 लोगों की कोरोना से मौत भी हुई है. शनिवार से 18 साल से अधिक लोगों को वैक्सिनेशन किया जाना शुरू कर दिया गया है, लेकिन बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या सरकार की चिंता बढ़ा रही है.

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट में मुताबिक उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में  5,493 नए संक्रमित मिले हैं.  इस दौरान 3,644 लोग डिस्चार्ज हुए और 107 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई. राज्य में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 51,127 बनी हुई है.

48 घंटे में थोड़ा कम हुई संख्या

उत्तराखंड में शुक्रवार को रिकॉर्ड कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के मामले सामने आए थे. शुक्रवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार 122 मरीजों की मौत हुई. वहीं, 5654 नए संक्रमित मिले थे. शनिवार को यह घटकर 5,493 हो गई. साथ ही एक्टिव केस की संख्या भी 55 हजार पार हो गई है.
जांच सेम्पल देकर लिखाया गलत पता 

कोरोना वायरस के हाहाकार के बीच बॉर्डर डिस्ट्रिक पिथौरागढ़ में आए दिन हजारों की तादात में प्रवासी अपने घरों को लौट रहे हैं. ऐसे में कोरोना संक्रमण बॉर्डर जिले में न फैले हेल्थ डिपार्टमेंट ने जिले के एंट्री प्वाइंट पर जांच केन्द्र बनाएं हैं. इन जांच केन्द्रों में बाहर से आने वालों का एंटीजन और आरटीपीसीआर सैंपल लिए जा रहे हैं. लेकिन कई सैंपल देने वाले ऐसे हैं, जो यहां भी हेराफेरी से बाज नहीं आ रहे हैं.

असल में कई लोग जांच केन्द्र में सैंपल तो अपना दे रहे हैं, लेकिन रजिस्ट्रर में नाम और मोबाइल नंबर किसी अन्य का दर्ज करा रहे हैं. ऐसे में केस पॉजिटिव आने पर मैसेज और कॉल उस व्यक्ति को जा रही है, जिसने कोरोना जांच के लिए सैंपल दिया ही नही हैं. बेरीनाग तहसील के पांखू में रहने वाले विनोद कार्की जबसे कोरोना संक्रमण तेजी से फैला है तबसे वे अपने घर पर ही हैं. खुद को सुरक्षित रखने के लिए वो कहीं बाहर भी नहीं जाते हैं, लेकिन बीते दिनों वे तब हैरान हो गए, जब उनके मोबाइल पर उनके नाम के साथ ये मैसेज आया कि आपका एंटीजन सैंपल ले लिया गया है, आप अपना ध्यान रखें. कार्की ये समझ नहीं पाए कि आखिर जब उन्होनें सैंपल दिया ही नहीं तो उन्हें मैसेज कैसे आया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज