होम /न्यूज /उत्तराखंड /

अल्मोड़ा की पहचान पुरानी 'पटालों' का मुकाबला नहीं, बाजार में बिछाया गया कोटा स्टोन जगह-जगह टूटा

अल्मोड़ा की पहचान पुरानी 'पटालों' का मुकाबला नहीं, बाजार में बिछाया गया कोटा स्टोन जगह-जगह टूटा

अल्मोड़ा नगरपालिका के अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने बताया कि बाजार में जो कोटा स्टोन लगा हुआ है, अब वह धीरे-धीरे टूटने लग गया है. इससे पहले यहां पटालें लगी हईं थीं. बता दें कि अल्‍मोड़ा बाल, माल और पटाल के लिए मशहूर है.

रोहित भट्ट

अल्मोड़ा. उत्तराखंड की सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा में देखा जाए तो देश-विदेशों से पर्यटक यहां घूमने के लिए आते हैं. अल्मोड़ा शहर आज भी इन तीन वजहों से जाना जाता है. यानी यह शहर बाल, माल और पटाल के लिए मशहूर है. यहां बाल का मतलब बाल मिठाई से है, माल का मतलब यहां की माल रोड से है और पटाल का मतलब अल्मोड़ा की मशहूर पटाल बाजार से है. वर्तमान में अल्मोड़ा की बाजार में कोटा स्टोन लगा हुआ है, जो अल्मोड़ा के थाना बाजार से लेकर लाला बाजार तक आपको देखने के लिए मिलता है. अब यह जगह-जगह टूट गया है.

अल्मोड़ा में लगी पुरानी पटालों को हटाकर कोटा स्टोन लगाया गया था. पहले की पटालें अल्मोड़ा के थाना बाजार से लेकर लाला बाजार तक लगी हुई थीं, लेकिन उन पटालों को हटाकर यहां पर कोटा स्टोन बिछा दिया गया था. यह काम 2004 में हुआ था. बाजारों से जो पटालें निकली थीं, उन्हें नंदा देवी के पास लगा दिया गया था, जो आज भी देखने को मिलती हैं. वहीं, पिछले कुछ सालों से यहां लगे कोटा स्टोन अब टूटने लगे हैं या फिर उखड़ने लगे हैं.

अल्मोड़ा नगरपालिका के अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने बताया कि बाजार में जो कोटा स्टोन लगा हुआ है, अब वह धीरे-धीरे टूटने लग गया है. उन्होंने जल संस्थान के ऊपर आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि पानी की पाइपलाइन बिछाने के चलते उन्होंने बाजार में काफी तोड़फोड़ की है, जिसके चलते यह पटालें भी टूट गई हैं. इसके बावजूद भी विभाग लगातार सुनने का नाम ही नहीं ले रहा है.

जोशी ने आगे कहा कि इसको लेकर उन्होंने अल्मोड़ा जिलाधिकारी और प्रशासन से कई बार कहा है. उन्होंने यह भी बताया है कि डीएम वंदना सिंह ने अल्मोड़ा की पटालों को लेकर प्रस्ताव मांगा था, जो प्रस्ताव दे दिया गया है. आशा जताई जा रही है कि अल्मोड़ा की बाजार में जल्द ही पुरानी पटालों की रौनक लौटेगी, जिससे शहर को फिर से उसकी पुरानी पहचान मिल सकेगी.

Tags: Almora News

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर