Good News: जीबी पंत पर्यावरण इंस्टीट्यूट ने विकसित की कम बारिश-बर्फबारी में होने वाले सेब की प्रजाति

जीबी हिमालय पर्यावरण संस्थान ने सेब के नई प्रजाति विकसित की.

Almora News: किसानों के लिए अच्छी खबर है. जीबी हिमालय पर्यावरण संस्थान ने सेब के नई प्रजाति विकसित की है. इस प्रजाति की खासियत यह है कि कम बारिश और बर्फबारी में भी सेब का उत्पादन प्रभावित नहीं होगा.

  • Share this:
अल्मोड़ा. पिछले कुछ सालों से बारिश की कमी और बर्फबारी नहीं होने से तापमान में बढ़ोतरी हो रही है जिसका सबसे अधिक प्रभाव सेब उत्पादन पर पड़ रहा है. मौसम परिवर्तन का असर धीरे-धीरे फसल और बागवानी पर भी पड़ रहा है. जीबी हिमालय पर्यावरण संस्थान ने सेब के नई प्रजाति रूट स्टॉक एमएम 111 और रूट स्टॉक एम 193 विकसित की है जिन्हें उधान विभाग के साथ मिलकर अल्मोड़ा, उतरकाशी, बागेश्वर जिलों में प्रयोग के तौर पर सेब की नई प्रजाति की नर्सरी विकसित की है.

जीबी पंत पर्यावरण संस्थान के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. किरीट कुमार का कहना है कि पिछले कुछ सालों से मौसम में तेजी से बदलाव आया है. बारिश कम और बर्फबारी नहीं होने से फसल के साथ ही बागवानी पर भी पड़ा है. संस्थान नें कुछ सहयोगी संस्थाओं के साथ मिलकर नई प्रजाति विकसित की है. किसानों को
इसका लाभ मिल सकता है.

उत्तरकाशी के किसान अनूप शाह का कहना है कि पिछले कुछ सालों से सेब उत्पादन में काफी कमी आई है. पूरे क्षेत्र की लोगों की आजीविका सिर्फ सेब उत्पादन पर ही है. अगर कोई नई प्रजाति विकसित होती है तो जरूर उसका लाभ किसानों को होगा.

किसानों की आय बढ़ेगी
राज्य में सेब उत्पादन से ही हजारों किसानों की आजीविका जुड़ी है. पिछले कुछ वर्षों में बदलते मौसम में किसानों की मेहनत पर पानी फेर दिया था. अब संस्थान के सेब के नई प्रजाति से किसानों को अच्छा लाभ मिल सकता है. पूरे क्षेत्र में किसान सेब उत्पादन करते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.