Assembly Banner 2021

Uttarakhand: कोरोना की दूसरी लहर ने बढ़ाई लोगों की मुश्किलें, प्रशासन ने सख्त किए नियम

तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण ने उड़ाई लोगों की नींद, प्रशासन अलर्ट

तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण ने उड़ाई लोगों की नींद, प्रशासन अलर्ट

कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है. हरिद्वार महाकुंभ भी शुरू हो चुका है और कोरोना संक्रमण के खतरे ने यहां भी लोगों की परेशानी बढ़ा दी है. हरिद्वार आने के लिए श्रद्धालुओं को कोविड रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य कर दिया गया है. सीएमएस सजंय कंसल का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर में 4 से 5 गुना मरीजों में वृद्धि हो रही है जो चिंताजनक है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 2, 2021, 10:41 PM IST
  • Share this:
रुढक़ी. कोरोना की दूसरी लहर को लेकर देशभर में अलर्ट है. कोरोना संक्रमण ( Corona infection) तेजी से फैल रहा है. हरिद्वार ( Haridwar) महाकुंभ ( Mahakumbh) भी शुरू हो चुका है और कोरोना संक्रमण के खतरे ने यहां भी लोगों की परेशानी बढ़ा दी है. हरिद्वार आने के लिए श्रद्धालुओं को कोविड रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य कर दिया गया है, इसके बावजूद प्रशासन कोरोना को लेकर कोई भी कमी नहीं छोडऩा चाहता है. इसी को लेकर संकेत सख्ती के भी हैं. सीएमएस सजंय कंसल का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर में 4 से 5 गुना मरीजों में वृद्धि हो रही है जो चिंताजनक है.

गौरतलब है कि हरिद्वार महाकुंभ 2021 से कई लोगों की आस्था जुड़ी है, लेकिन दोबारा से कोरोना ने श्रद्धालुओं की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. वहीं हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं को कोविड रिपोर्ट दिखाकर ही बॉर्डरों से उत्तराखंड में प्रवेश दिया जा रहा है. बढ़ते कोविड को देखते हुए अब स्वास्थ्य विभाग भी एक बार फिर अलर्ट मोड में नजर आ रहा है. साथ ही सिविल अस्पताल में कोविड जांच और टीका लगवाने वालों की अस्पताल में भीड़ बढ़ रही है. कोविड को देखते हुए कुंभ को सिर्फ एक महीने का किया गया है. वहीं हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में इजाफा होने की संभावना जताई जा रही है. क्योंकि कुंभ में साही स्नान होने तो इसमें कई राज्यों के लोग पहुंचने की संभावना है. इस बार कुंभ में कोविड सबसे बड़ा खतरा बना हुआ है जिससे प्रशासन की चिंताएं बड़ी हुई है.

सीएमएस सजंय कंसल का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर काफी तेजी से फैल रही है. इस बार 4 से 5 गुना मरीजों में वृद्धि हो रही है जोकि चिंताजनक है. उन्होंने कहा कि लोगों को लापरवाही नही बरतनी चाहिए रुढक़ी क्षेत्र में 1 अप्रैल को 43 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है. इससे साफ जाहिर होता की कोरोना तेजी बढ़ रहा है. वहीं पिछले दिनों जो कोरोना की संख्या शून्य हो चुकी थी, उसमें तेजी से इजाफा हो रहा है. इसलिए एक बार फिर सभी को अलर्ट रहने की जरूरत है, ताकि इस बीमारी से बचा जा सके. इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज