Home /News /uttarakhand /

Almora News: कोरोना संक्रमण के बाद बिछु घास से बनी 'हर्बल टी' की बढ़ी डिमांड, जानें फायदे

Almora News: कोरोना संक्रमण के बाद बिछु घास से बनी 'हर्बल टी' की बढ़ी डिमांड, जानें फायदे

Almora:  पिछले दो सालों में महिलाओं ने लाखों रुपये की चाय बेची.

Almora: पिछले दो सालों में महिलाओं ने लाखों रुपये की चाय बेची.

Uttarakhand Herbal Tea: प्रबंधक महिला उत्पाद दिनेश पंत का कहना है कि महानगरों से हर्बल टी की मांग तेजी से हो रही है. महिलाओं को रोजगार मिल रहा है. उन्होंने बताया कि स्थानीय उत्पादों का देश भर में मांग हो रही है. जिसे पैकिंग और ग्रेडिंग कर भेजा जा रहा है. मंजू नेगी का कहना है कि महिलायें बिछु को तोड़कर सुखाते है इसके बाद पाउडर बनाकर, ग्रेडिंग कर पैकिंग करते है. जिससे स्थानीय उत्पादों को बाजार के साथ ही महिलाओं को घर के पास ही रोजगार मिलता है. पिछले कुछ सालों से महिलायें समूह के रुप से स्वरोजगार कर रही है. उत्पादन को समूह के आँफिस तक पहुंचाना और ग्रेडिंग और पैंकिंग में दर्जनों महिलाओं को रोजगार मिलता है.

अधिक पढ़ें ...

अल्मोड़ा. कोरोना संक्रमण (Corona Infection) ने लोगों को इम्यूनिटी बढ़ाने की जरुरत समझा दी है. हवालबाग में महिला समूह की हर्बल टी (Herbal Tea) की मांग कई गुना बढ़ गयी है. कोरोना काल के बाद बिछु घास की चाय की मांग महानगरों में तेज हो रही है. जिससे महिलाओं को रोजगार मिल रहा है और स्थानीय उत्पाद को बाजार मिल रहा है. हवालबाग में महिला समूह हर्बल टी बना रहे है. जिसमें तुलसी. बुरांश. बिछु घास सहित कई तरह की चाय बना रहे है. सर्दी बढ़ते ही पहाड़ की बिछु घास की मांग तेज हो गयी है. पिछले दो सालों में महिलाओं ने लाखों रुपये की चाय बेची.

प्रबंधक महिला उत्पाद दिनेश पंत का कहना है कि महानगरों से हर्बल टी की मांग तेजी से हो रही है. महिलाओं को रोजगार मिल रहा है. उन्होंने बताया कि स्थानीय उत्पादों का देश भर में मांग हो रही है. जिसे पैकिंग और ग्रेडिंग कर भेजा जा रहा है. मंजू नेगी का कहना है कि महिलायें बिछु को तोड़कर सुखाते है इसके बाद पाउडर बनाकर, ग्रेडिंग कर पैकिंग करते है. जिससे स्थानीय उत्पादों को बाजार के साथ ही महिलाओं को घर के पास ही रोजगार मिलता है. पिछले कुछ सालों से महिलायें समूह के रुप से स्वरोजगार कर रही है. उत्पादन को समूह के आँफिस तक पहुंचाना और ग्रेडिंग और पैंकिंग में दर्जनों महिलाओं को रोजगार मिलता है.

Uttarakhand: देहरादून पुलिस का बड़ा एक्शन, किडनैपर्स के चंगुल से ऐसे बचाया 13 साल का मासूम

बता दें कि कोरोना काल में पहाड़ की जड़ी-बूटियों की तेजी से मांग हुई जो लोगों की इम्यूनिटी बढ़ाने में मददगार हुई. अब पहाड़ के लोगों को अपने घरों में ही स्वरोजगार का मौका मिलेगा और स्थानीय उत्पाद के बाजार मिलेगी. बताया जा रहा है ‘हर्बल टी’ महिला हार्मोन को संतुलित करने में मदद करता है. वहीं ऐंठन दूर कर, मूड ठीक करने और सिरदर्द कम करने में भी फायदेमंद है.

Tags: Almora News, Corona Cases, Corona Infections, Pushkar Singh Dhami, Tea, Uttarakhand corona, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर